सामाजिक कार्यो के चलते शाहरुख फिर से डॉक्टरेट की उपाधि से सम्मानित

विश्वविद्यालय ने अपने आधिकारिक ट्विटर अकांउट पर शाहरुख की कुछ तस्वीरें साझा की है।

इसमें शाहरुख के भाषण को भी साझा किया गया है जिसमें वह यह कहते नजर आ रहे हैं कि मीर फाउंडेशन ने जो कुछ भी हासिल किया है उसके लिए यह महज एक अवॉर्ड नहीं है। यह पुरस्कार हर उस महिला के साहस को समर्पित है जिन्होंने अन्याय, असामनता और अमानवीयता की क्रूरता का सामना करती हैं।

शाहरुख ने ट्विटर पर अपनी एक तस्वीर साझा करते हुए इसके कैप्शन में लिखा, ला ट्रोब विश्वविद्यालय के रास्ते..उच्च शिक्षा के लिए भारत की एक छात्रा को स्कॉलरशिप प्रदान करने और मीर फाउंडेशन के काम को अपना समर्थन देने के लिए आपका धन्यवाद।

शाहरुख ने अपने पिता मीर ताज मोहम्मद खान के नाम पर इस संस्था का गठन किया और इसके माध्यम से महिलाओं को सशक्त बनाने का काम जमीनी स्तर से किया जाता है। इसमें मुख्य रूप से एसिड अटैक से पीड़ित महिलाओं की सहायता की जाती है।

--आईएएनएस

Related News

Leave a Comment