केरल बारिश : मुख्यमंत्री ने समीक्षा बैठक बाद कहा, घबराने की जरूरत नहीं

तिरुवनंतपुरम, 9 अगस्त (आईएएनएस)। बीते कुछ दिनों में केरल के ज्यादातर हिस्सों में भारी बारिश के बाद मुख्यमंत्री पिनरई विजयन ने शुक्रवार को लोगों को भरोसा दिया कि उन्हें घबराने की जरूरत नहीं है।

एक समीक्षा बैठक की अध्यक्षता करने बाद मीडिया से बातचीत में विजयन ने कहा कि चीजें नियंत्रण में हैं।

विजयन ने कहा, अगर कोई बाढ़ की तुलना बीते साल इसी समय आई बाढ़ से करता है तो इस बार यह उस तरह से गंभीर नहीं है। सरकार के तौर पर हमने हर सावधानी बरती है और घबराने की कोई जरूरत नहीं है, लेकिन सतर्क रहने की जरूरत है। समय की जरूरत है कि लोग प्रशासन के साथ सहयोग करें, अगर उन्हें खतरे की संभावना वाले जगहों से जाने को कहा गया है तो उन्हें इसका पालन करना चाहिए।

अब तक बाढ़ व बारिश से केरल के विभिन्न भागों से 23 मौतों की सूचना है।

विजयन ने कहा, वायनाड बुरी तरह प्रभावित है। राज्य में 315 राहत शिविरों में 22,165 लोग हैं, वायनाड में 9563 लोग 105 राहत शिविरों में हैं, जो राज्य में सर्वाधिक संख्या है। खराब मौसम से हवाई अभियान में बाधा आ रही है। वायुसेना दल तैयार है और वहां पहुंचने का इंतजार कर रहा है। केंद्र ने हर संभव मदद का वादा किया है।

विजयन ने कहा, मौसम विभाग ने अगले 24 घंटों में राज्य के खास तौर से पहाड़ी इलाकों में अधिक बारिश होने का अनुमान जाहिर किया है। इसके अलावा, उत्तर केरल हवाओं से प्रभावित होने वाला है। यह भी अनुमान जताया गया है कि कल बारिश में कमी आएगी, लेकिन 15 अगस्त को भारी बारिश का अनुमान है।

राहत व बचाव कार्य में लगे बलों की मौजूदगी पर उन्होंने कहा कि राष्ट्रीय आपदा मोचन बल (एनडीआरएफ) की 13 टीमें, और इंजीनियरिंग कार्य बल व सेना की तीन-तीन टीमें हैं।

विजयन ने कहा, सेना की दो और टुकड़ी पहुंच रही है। कोचीन हवाईअड्डा रविवार तक बंद है, तो कोचीन नेवल बेस एयरपोर्ट को खोले जाने के प्रयास किए जा रहे हैं। केंद्र हमेशा हमारे संपर्क में है।

उन्होंने यह भी कहा कि अलप्पुझा में शनिवार को होने वाली नेहरू बोट रेस के 67वें संस्करण को स्थगित कर दिया गया है।

--आईएएनएस

Related News

Leave a Comment