हितों के टकराव से निपटना चुनौतीपूर्ण : कुंबले

पणजी, 9 अगस्त (आईएएनएस)। पूर्व भारतीय कप्तान अनिल कुंबले ने कहा है कि हर किसी के जीवन में हितों का टकराव हो सकता है।

कुंबले का यह बयान उस मामले के बाद आया है, जिसमें भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (बीसीसीआई) के लोकपाल डीके जैन ने हितों के टकराव मामले में भारतीय अंडर-19 और इंडिया-ए टीम के मुख्य कोच राहुल द्रविड़ को नोटिस जारी किया है।

कुंबले ने संवाददाताओं से कहा, मुझे लगता है कि हर पेशेवर व्यक्ति के साथ हितों के टकराव होते हैं। आप कैसे उनका सामना करते हैं, आप किस तरह उसमें शामिल होते हैं, यह काफी अहम रहता है। जब लोगों को पता चलता है कि आप किसी भी पेशे में किस तरह से शामिल हैं, तो मुझे नहीं लगता कि किसी तरह के हितों के टकराव का मामला बनता है।

पूर्व भारतीय लेग स्पिनर ने साथ ही कहा, यह दुर्भाग्यपूर्ण है कि हर क्रिकेटर को हितों के टकराव जैसे मामलों से गुजरना पड़ता है। बहुत कम ही ऐसे क्रिकेटर हैं जो भारत के लिए खेले हैं। इसलिए केवल वही इस खेल में योगदान देते हैं। यदि आप उन्हें भी इस तरह के मामलों में शामिल करेंगे तो मुझे लगता है कि किसी और को ही क्रिकेट के योगदान के लिए देखना होगा।

--आईएएनएस

Related News

Leave a Comment