कश्मीर में न ससुराल चाहिए, न मकान : बजरंग पूनिया

नई दिल्ली, 11 अगस्त (आईएएनएस)। अनुच्छेद-370 के हटने के बाद से कई राजनेताओं ने जम्मू एवं कश्मीर की महिलाओं पर विवादित बयान दिया। इस बीच पहलवान बजरंग पूनिया ने शांति का संदेश लेकर आए।

अनुच्छेद-370 के तहत जम्मू एवं कश्मीर को विशेष दर्जा मिलता था, जिसे केंद्र सरकार ने समाप्त कर दिया।

पूनिया ने शुक्रवार को ट्वीट किया, ना कश्मीर में ससुराल चाहिए, ना ही वहां पर मकान चाहिए, बस कोई फौजी शरीर तिरंगे में लिपटकर न आये, अब ऐसा हिंदुस्तान चाहिए। जय हिंद जय भारत।

पूनिया के इस ट्वीट से एक दिन पहले हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर ने राज्य में एक सभा के दौरान कहा कि लोग कह रहे थे कि अनुच्छेद-370 के समाप्त होने के बाद अब कश्मीर की महिलओं से शादी की जा सकती है।

इससे पहले, उत्तर प्रदेश में भाजपा विधायक विक्रम सिंह सैनी ने अपनी पार्टी के कार्यकर्ताओं से कहा था कि अब कश्मीर की महिलाओं से शादी करने के अधिकार का लाभ उठाए।

--आईएएनएस

Related News

Leave a Comment