कश्मीर मामले में इमरान सरकार की नीयत पर जताया संदेह

इस्लामाबाद, 14 अगस्त (आईएएनएस)। पाकिस्तान के विपक्षी दल पाकिस्तान पीपुल्स पार्टी (पीपीपी) के चेयरमैन बिलावल भुट्टो जरदारी कश्मीर मुद्दे पर इमरान सरकार की आक्रामक नीति से भी संतुष्ट नहीं दिख रहे हैं। उन्हें सरकार की तरफ से कुछ और अधिक किए जाने की अपेक्षा है। उन्होंने सरकार की मंशा पर सवाल खड़े करते हुए कहा कि सरकार कश्मीरियों का समर्थन प्रभावी तरीके से नहीं कर रही है।

यहां एक संवाददाता सम्मेलन में बिलावल ने कहा कि सरकार द्वारा मुद्दे को संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद में नहीं ले जाना और ईद के दिन प्रधानमंत्री इमरान खान के बजाए विदेश मंत्री शाह महमूद कुरैशी का आजाद कश्मीर (पाकिस्तान के कब्जे वाला कश्मीर) जाना, सरकार की नेकनीयती पर सवाल खड़े करता है।

बिलावल के मंगलवार के इस बयान तक पाकिस्तान सरकार ने कश्मीर मुद्दे को संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद में उठाने पर कदम नहीं उठाया था लेकिन मंगलवार रात कुरैशी ने बताया कि इस मुद्दे को सुरक्षा परिषद में उठाने के लिए औपचारिक रूप से आग्रह कर दिया गया है।

बिलावल ने भारतीय प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की तुलना पाकिस्तानी प्रधानमंत्री इमरान खान से कर डाली और कहा कि दोनों नेता एक ही जैसे हैं। उन्होंने कहा कि मोदी कश्मीर में दमन कर रहे हैं और इमरान यही काम पाकिस्तान के विपक्ष के साथ कर रहे हैं।

बिलावल ने कहा कि पाकिस्तान को कश्मीरियों के पक्ष में स्पष्ट संदेश देना चाहिए, उन्हें बताना चाहिए कि अगर युद्ध की जरूरत पड़ी तो देश वह भी करेगा।

--आईएएनएस

Related News

Leave a Comment