स्वतंत्रता दिवस से पहले पूर्वोत्तर राज्यों में कड़े किए सुरक्षा इंतजाम

अगरतला/सिलचर/आईजोल, 14 अगस्त (आईएएनएस)। स्वतंत्रता दिवस से पहले पूर्वोत्तर के सभी राज्यों में सुरक्षा कड़ी कर दी गई है। अधिकारियों के अनुसार, गुरुवार को मनाए जाने वाले स्वतंत्रता दिवस से पहले एहतियात के तौर पर कड़े इंतजाम किए गए हैं।

अगरतला के एक शीर्ष सैन्य अधिकारी ने आईएएनएस को बताया, हवाई अड्डों, रेलवे स्टेशनों, बाजारों, महत्वपूर्ण प्रतिष्ठानों और घनी आबादी वाले क्षेत्रों में विशेष सुरक्षा इंतजाम किए गए हैं।

सभी राज्यों की राजधानियों और जिला मुख्यालयों में त्वरित प्रतिक्रिया दल तैयार रखे गए हैं। डॉग और बम स्क्वाड पिछले कुछ दिनों से सतर्क हैं।

नॉर्थएस्ट फ्रंटियर रेलवे (एनएफआर) के चीफ पब्लिक रिलेशन ऑफिसर (सीपीआरओ) प्रणव ज्योति शर्मा के मुताबिक, अतिसंवेदनशील इलाके में ट्रैक गश्त तेज कर दी गई है।

सीपीआरओ ने कहा, यात्रियों और उनके सामान की तलाशी ली जा रही है। स्टेशनों पर और ट्रेनों में स्निफर डॉग्स की मदद से एंटी-सैबोटेज चेकिंग की जा रही है। स्टेशनों और संवेदनशील इलाकों की निगरानी की जा रही है।

सिलचर (दक्षिण असम) के एक वरिष्ठ पुलिस अधिकारी ने कहा कि मिश्रित और अल्पसंख्यक बहुल इलाकों में अतिरिक्त सुरक्षा बल तैनात किए गए हैं। अधिकारी ने कहा, जम्मू-कश्मीर में स्थिति को देखते हुए हम अतिरिक्त सतर्क हैं।

इसी के साथ आइजोल में एक पुलिस अधिकारी ने कहा कि मिजोरम में हालांकि गुरुवार को मनाए जाने वाले स्वतंत्रता दिवस समारोह के दौरान शांति भंग होने की कोई आशंका नहीं है। मगर इसके बावजूद सुरक्षा बल किसी भी स्थिति से निपटने के लिए सतर्क है।

इस अवसर पर हर साल आतंकी संगठन बहिष्कार का आह्वान करते हैं, लेकिन इस बार सुरक्षा एजेंसियों के पास ऐसी कोई सूचना नहीं है।

सुरक्षा अधिकारियों के अनुसार, जम्मू-कश्मीर की स्थिति को देखते हुए अतिरिक्त कदम उठाए गए हैं। केंद्रीय गृह मंत्रालय ने अनुच्छेद-370 के रद्द होने के बाद सभी राज्यों को सतर्क रहने को कहा है।

--आईएएनएस

Related News

Leave a Comment