एनएफएआई को शिमला सम्मेलन की दुर्लभ फुटेज उपहार में मिली

रॉयल इंडियन नेवी के अधिकारी विलियम जी. टेलर द्वारा 12 मिनट की यह फिल्म 8 मिमी प्रारूप में एक होम वीडियो के रूप में शूट की गई है। इसमें शिमला सम्मेलन के ऐतिहासिक क्षणों को समेटा गया है। इसमें उस समय के शीर्ष राष्ट्रीय नेताओं ने भाग लिया था जिसमें महात्मा गांधी भी थे।

एनएफएआई के निदेशक प्रकाश मैगडम ने कहा, इस फुटेज को ब्रिटेन की मिस मार्ग्रेट साउथ ने एनएफएआई को संरक्षण के लिए भेजा है, जो दिवंगत विलियम जी.टेलर की बेटी हैं।

शिमला सम्मेलन 1945 में शिमला में हुआ था जिसमें तत्कालीन वायसराय लार्ड ए. पी. वेवेल के साथ कई राजनीतिक दिग्गजों ने भाग लिया था। इसमें महात्मा गांधी, राजेंद्र प्रसाद, सी.राजगोपालाचारी, मौलाना अबुल कलाम आजाद व मोहम्मद अली जिन्ना व अन्य शामिल थे। इसका उद्देश्य भारत की स्वतंत्रता की नींव रखना था। जिन्ना बाद में पाकिस्तान के संस्थापक बने।

हालांकि, वेवेल की देश को स्वतंत्र करने की योजना कई ऐतिहासिक कारणों की वजह से फलीभूत नहीं हो पाई।

--आईएएनएस

Related News

Leave a Comment