लद्दाख के सांसद ने तिरंगा फहराते हुए इसे क्षेत्र का पहला स्वतंत्रता दिवस बताया

लेह, 15 अगस्त (आईएएनएस)। लद्दाख के भाजपा सांसद जोयांग त्सरिंग नामग्याल ने स्थानीय पार्टी कार्यालय में तिरंगा फहराते हुए इसे लद्दाख का पहला स्वतंत्रता दिवस बताया।

नामग्याल (34) ने हाल ही में जम्मू-कश्मीर को विशेष दर्जा देने वाले अनुच्छेद-370 को रद्द कर लद्दाख को अलग केंद्र शासित प्रदेश बनाने पर संसद में अपना ओजस्वी भाषण दिया था, जिसने उनके प्रशंसकों समेत तमाम देशवासियों का दिल जीत लिया था।

इस दौरान नामग्याल लद्दाखी पुरुषों के पारंपरिक गहरे भूरे रंग की पोशाक गौचा पहने हुए दिखाई दिए। उन्होंने पार्टी के वरिष्ठ नेता राम माधव और अन्य लोगों के साथ लेह में तिरंगा फहराया।

इसके बाद पारंपरिक वेशभूषा पहने अन्य लद्दाखी लोगों के साथ खुशी से नाचते हुए उनका एक वीडियो भी वायरल हुआ।

उन्होंने अपने पैतृक गांव माथो के बौद्ध भिक्षुओं के राष्ट्रीय ध्वज फहराने और उसे सलामी देने की तस्वीरों को भी ट्विटर पर साझा किया।

उन्होंने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की ओर से कश्मीर से लद्दाख को अलग करने संबंधी हैशटैग का प्रयोग करते हुए ट्वीट किया। उन्होंने लिखा, लद्दाख को केंद्रशासित प्रदेश घोषित करने के बाद बौद्ध भिक्षुओं और मेरे पैतृक गांव माथो के लोगों ने पहले स्वतंत्रता दिवस का जश्न मनाते हुए राष्ट्रीय ध्वज फहराया। लद्दाख को कश्मीर से आजादी मिली।

इस दौरान उन्होंने कहा कि लद्दाख के सभी घरों में तिरंगा फहराया गया है, जो लोगों की देशभक्ति और भारत के प्रति उनकी अटूट प्रतिबद्धता का प्रतीक है।

--आईएएनएस

Related News

Leave a Comment