उप्र में व्यवसायी ने जुर्माना भर 21 कैदियों को आजाद कराया

आगरा, 16 अगस्त (आईएएनएस)। उत्तर प्रदेश के आगरा जिला जेल में सजा पूरी करने के बाद भी जुर्माना नहीं भर पाने के कारण जेल की सलाखों के पीछे जिंदगी काट रहे 21 कैदियों के लिए एक व्यवसायी फरिश्ता बनकर आया। व्यापारी ने इन कैदियों की ओर से 1,73,000 रुपये जुर्माना भरकर स्वंतत्रता दिवस के दिन इन्हें स्वतंत्र कराया।

आगरा जेल अधीक्षक, शशिकांत मिश्रा ने शुक्रवार को कहा, इन 21 कैदियों पर कुल 1,73,711 रुपये का जुर्माना लगाया गया था। हालांकि, उन्होंने जेल की सजा की मियाद पूरी कर ली थी, लेकिन उन्हें राशि का भुगतान करने में विफल रहने के बाद रिहा नहीं किया गया था। एक व्यवसायी, राकेश सहगल जुर्माना भरने के लिए आगे आए, जिसके बाद हमने उन्हें स्वतंत्रता दिवस पर रिहा कर दिया।

आगरा में एक्सपोर्ट बिजनेस करने वाले सहगल ने कहा, मुझे मिश्रा से इन कैदियों की स्थिति के बारे में पता चला और मैंने इनकी मदद करने का फैसला किया।

उत्तर प्रदेश सरकार ने स्वतंत्रता दिवस पर राज्यभर के 73 कैदियों को पहले ही मुक्त कर दिया था और इन अतिरिक्त 21 कैदियों की रिहाई के साथ, कुल 94 कैदियों को रिहा किया गया है।

--आईएएनएस

Related News

Leave a Comment