बधाई हो को राष्ट्रीय पुरस्कार मिलना संतोषप्रद है : सान्या मल्होत्रा

मुंबई, 16 अगस्त (आईएएनएस)। अभिनेत्री सान्या मल्होत्रा ने दंगल से बॉलीवुड में कदम रखा और इसके बाद उन्होंने बधाई हो में काम किया। फिल्मों के मामले में सान्या की पहली प्राथमिकता अच्छी स्क्रिप्ट है।

सान्या की पहली फिल्म दंगल ब्लॉकबस्टर साबित हुई, वहीं उनकी दूसरी फिल्म बधाई हो ने बेहतरीन मनोरंजन प्रदान करने के लिए बेस्ट पापुलर फिल्म का राष्ट्रीय पुरस्कार जीता।

सान्या का कहना है कि फिल्मों को इस तरह की सराहना मिलना काफी संतोषप्रद है।

सान्या ने आईएएनएस को बताया, जब मैंने बधाई हो की कहानी सुनी, तब मुझे लगा कि यह फिल्म बहुत ही स्पेशल होगी क्योंकि इसकी विषयवस्तु बिल्कुल हटके थी। यह उन फिल्मों में से एक है जिन्हें हां कहने में मैं ज्यादा वक्त नहीं लगाती। जिस मात्रा में हमें दर्शकों और क्रिटिक्स से प्यार मिला है वह अकल्पनीय है। इस वजह से राष्ट्रीय पुरस्कार मिलना बेहद संतोषजनक है।

सान्या ने आगे कहा, जब हम दंगल बना रहे थे, तब भी हममें इसी तरह का एहसास था। आखिरकार जब फिल्म बनकर आई और दर्शक इसे अपना प्यार देने लगे, तो यह हमारे लिए काफी संतोषदायक था क्योंकि इस फिल्म की कहानी ने काफी लड़कियों को प्रेरित किया था।

दंगल के लिए सान्या की सह-कलाकार जायरा वसीम को साल 2017 में सर्वश्रेष्ठ सहायक अभिनेत्री का नेशनल अवॉर्ड मिला था।

क्या सान्या खुद को फिल्मकारों के लिए लकी मानती हैं? इस पर सान्या ने कहा, मैं खुशकिस्मत हूं कि मुझे इन फिल्मों में काम करने का मौका मिला।

--आईएएनएस

Related News

Leave a Comment