रतुल पुरी अगस्ता वेस्टलैंड जांच से राहत के लिए अदालत पहुंचे

नई दिल्ली, 16 अगस्त (आईएएनएस)। मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री कमलनाथ के भांजे और उद्योगपति रतुल पुरी ने अगस्ता वेस्टलैंड हेलीकॉप्टर डील मामले में राहत के लिए अदालत का दरवाजा खटखटाया।

रतुल पुरी ने दिल्ली की एक अदालत का दरवाजा खटखटाते हुए 3,600 करोड़ रुपये की अगस्ता वेस्टलैंड हेलीकॉप्टर डील से संबंधित धनशोधन के मामले में उनके खिलाफ जारी गैरजमानती वारंट रद्द करने की मांग की।

अधिवक्ता विजय अग्रवाल के माध्यम से सीबीआई के विशेष न्यायाधीश अरविंद कुमार के समक्ष दाखिल याचिका पर शनिवार को सुनवाई हो सकती है।

पुरी ने अपनी याचिका में कहा कि उन्होंने प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) को एक ईमेल भेजा है जिसमें उन्होंने जांच में शामिल होने की अपनी इच्छा जताई है।

पुरी ने 14 अगस्त को भेजे ईमेल में कहा, मैं 15 अगस्त 2019 को पूर्वाह्न् 11 बजे से आगे जांच में शामिल होने को इच्छुक हूं और इसके बाद आपके निर्देश के अनुसार जांच में शामिल होना चाहता हूं।

पुरी ने यह भी बताया कि दिल्ली उच्च न्यायालय ने निर्देश दिया है कि जब तक ट्रायल कोर्ट में उनकी जमानत याचिका खारिज न हो जाए तब तक उनके खिलाफ कोई कड़ी कार्रवाई न की जाए।

पुरी ने कहा कि 26 जुलाई को वह खुद ईडी के समक्ष पेश हुए थे। हालांकि जब वह भोजनावकाश में बाहर गए तो उनको सूचना मिली कि ईडी ने उनके एक जानकार को सूचना दी है कि वह पुरी को गिरफ्तार करना चाहता है।

--आईएएनएस



Source : ians

Related News

Leave a Comment