इसरो के वैज्ञानिकों को समर्पित है मॉम : मिशन ओवर मार्स

मुंबई, 18 अगस्त (आईएएनएस)। नई वेब सीरीज मॉम : मिशन ओवर मार्स, भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान (इसरो) के वैज्ञानिकों को समर्पित है। यह चार महिला वैज्ञानिकों की प्रेरणादायक कहानी है जो अपनी प्रतिभा और मेहनत से इंडियन स्पेस एजेंसी की मंगलयान मिशन को अंजाम देती हैं।

इस शो की निर्माता एकता कपूर ने शनिवार को मुंबई में अपनी आने वाली वेब सीरीज छोड़ लस्सी और चिकन मसाला और मॉम : मिशन ओवर मार्स के ट्रेलर लॉन्च के इवेंट पर मीडिया से बातचीत में इसका खुलासा किया।

इतने सारे फैमिली शोज बनाने के बाद उन्होंने मंगल ग्रह जाने का क्यों सोचा? इस पर एकता ने कहा, मैं मंगल ग्रह पर नहीं गई हूं। भारत के पुरुष और महिला वैज्ञानिक, इसरो और 130 करोड़ भारतीयों ने इसकी यात्रा की है, मैं उस गर्वित उपलब्धि का हिस्सा हूं।

इसरो की महिला वैज्ञानिकों ने 5 नवंबर, 2013 को मंगल ग्रह पर पहुंचाने के लिए मंगलयान को अंतरिक्ष पर भेजा और इसी के साथ भारत मंगल पर पहुंचने वाला एशिया का पहला और दुनिया का चौथा देश बना। इसके अलावा, भारत अपने देश में तैयार की गई तकनीकों की मदद से पहले ही प्रयास में इस वैज्ञानिक कार्य को अंजाम देने वाला पहला देश बन गया। ये तकनीकें एडवांस्ड तो थीं, लेकिन इसके साथ ही पूरी दुनिया में इनकी लागत भी सबसे कम थी।

अक्षय कुमार की हालिया फिल्म मिशन मंगल की कहानी भी इसी पर आधारित है। यह फिल्म 15 अगस्त को रिलीज हुई है।

मॉम : मिशन ओवर मार्स आल्ट बालाजी पर दिखाई जाएगी। इसमें साक्षी तंवर, मोना सिंह, निधि सिंह और पालोमी घोष महिला वैज्ञानिकों की भूमिका में हैं।

--आईएएनएस

Related News

Leave a Comment