तनाव के बीच वाघा बॉर्डर से होने वाली यात्रा प्रभावित

लाहौर, 19 अगस्त (आईएएनएस)। भारत और पाकिस्तान के बीच बढ़ते तनाव के कारण अटारी-वाघा सीमा (बॉर्डर) के जरिए लाहौर की यात्रा काफी प्रभावित हुई है।

दि ट्रिब्यून एक्सप्रेस की रिपोर्ट के अनुसार, पाकिस्तान रेंजर्स पंजाब विंग और बॉर्डर सिक्योरिटी फोर्स (बीएसएफ) द्वारा सीमा पर होने वाली पारंपरिक परेड हालांकि जारी है। इसी के साथ इसे देखने के लिए दोनों देशों की ओर से काफी लोग आ रहे हैं।

बढ़ते तनाव के बीच भी मिल्रिटी परेड का शानदार नजारा देखने के लिए पाकिस्तान और भारत के हजारों लोग अटारी-वाघा सीमा पर पहुंच रहे हैं। इस परेड के दौरान दोनों की देशों के नागरिकों में एक विशेष उत्साह पैदा होता है, जो सैनिकों का मनोबल बढ़ाता है।

भारत की ओर से जम्मू एवं कश्मीर को विशेष दर्जा देने वाले अनुच्छेद-370 को हटाने के बाद से पाकिस्तान और भारत के बीच तनाव बढ़ा हुआ है। इसी तनाव के बीच दोनों देशों के बीच द्विपक्षीय व्यापार बंद हो गया, जबकि बस और ट्रेन सेवा को भी निलंबित कर दिया गया है।

दोनों देशों के नागरिकों सहित अन्य विदेशी लोग हालांकि अभी भी अटारी-वाघा सीमा के माध्यम से यात्रा कर सकते हैं, लेकिन बिगड़ते संबंधों को देखते हुए यात्रियों की संख्या में भारी कमी आई है।

वाघा सीमा पर यातायात भी कम हो गया है, जबकि सैन्य परेड के रूप में होने वाले प्रदर्शन ने गति पकड़ी है। इस विशेष कार्यक्रम को देखने के लिए और अधिक दर्शकों को बुलाया गया है।

रविवार को परेड देखने के लिए देशभर से हजारों लोग अटारी-वाघा सीमा पर पहुंचे। इस कार्यक्रम में दर्शकों का भारी उत्साह देखा गया।

कराची से लाहौर में अपने रिश्तेदारों से मिलने आई राबिया अहमद ने कहा कि वह हमेशा परेड देखने में दिलचस्पी रखती थी और अब आखिरकार उनकी यह इच्छा पूरी हुई है।

इस पारंपरिक परेड में पाकिस्तान और भारत के सीमा सुरक्षा बल एक निर्धारित प्रोटोकॉल के अनुसार सलामी देते हैं। दोनों देशों के संबंधों में उतार-चढ़ाव अक्सर इन सैनिकों के इशारों में भी दिखाई देते हैं।

--आईएएनएस

Related News

Leave a Comment