जिंदल यूनिवर्सिटी में दरियादिली पर वैश्विक युवा सम्मेलन

सोनीपत, 20 अगस्त (आईएएनएस)। पूरे विश्व से कुल 60 युवा लीडर्स ने मंगलवार को ओ. पी. जिंदल ग्लोबल यूनिवर्सिटी में दरियादिली पर आयोजित विश्व के पहले वैश्विक सम्मेलन में हिस्सा लिया। यह सम्मेलन तीन दिन तक चलेगा।

तीन दिवसीय इस सम्मेलन को यूनेस्को महात्मा गांधी इंस्टीट्यूट ऑफ एज्यूकेशन फॉर पीस एंड स्सटेनेबल डेवलपमेंट (एमजीआईईपी) और जिंदल यूनिवर्सिटी ने साथ मिलकर आयोजित किया है।

तीन दिवसीय इस सम्मेलन में युवाओं को समाजिक और भावनात्मक समझ को लेकर सक्षम बनाने पर ध्यान दिया जाएगा। साथ ही मौजूदा मुद्दों के बारे में जानकारी, समाज के भले के लिए सोशल मीडिया के इस्तेमाल पर भी जोर दिया जाएगा। यह सम्मेलन 23 अगस्त को दिल्ली के विज्ञान भवन में राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद के भाषण के साथ समाप्त होगा।

मौजूदा समय में हिंसा, भेद-भाव और कट्टरता पर चिंता व्यक्त करते हुए जेजीयू के वाइस चांसलर डॉ. राज कुमार ने कहा, हम इस तरह के समाज में कदम रख रहे हैं जहां अहिंसा को लेकर हमारे पहले से स्थापित मानदंड और मूल्य मिट चुके हैं।

उन्होंने हालांकि उम्मीद जताई की इस तरह के सम्मेलन से, युवा अपने अंदर नई कल्पना को जन्म देंगे।

यूनेस्को एमजीआईईपी के निदेशक अनंथा दुराइप्पाह ने कहा, भविष्य हमारे लिए एक तरह से रोलर कोस्टर राइड की तरह होने वाला है इसलिए यह जरूरी है कि हम भावनाओं पर बात करें और इसलिए यह तीन दिन की कार्यशाला आयोजित की गई है।

--आईएएनएस

Related News

Leave a Comment