बिहार : पटना में दूध बाजार तोड़े जाने के विरोध में तेजस्वी धरने पर

पटना, 21 अगस्त (आईएएनएस)। राष्ट्रीय जनता दल (राजद) के नेता और पूर्व उपमुख्यमंत्री तेजस्वी यादव पटना पहुंचते ही सड़क पर उतर गए। तेजस्वी अतिक्रमण हटाओ अभियान के तहत पटना रेलवे स्टेशन के समीप बने दूघ मार्केट को तोड़े जाने के विरोध में बुधवार रात धरने पर बैठ गए। इस दौरान उन्होंने कहा कि जब तक इन दूघ विक्रेताओं को न्याय नहीं मिल जाता, वह धरना से नहीं उठेंगे।

पुलिस के अनुसार, पटना में अतिक्रमण के खिलाफ चलाए जा रहे अभियान के पांचवें दिन बुधवार को पटना जंक्शन के पास बने दूध बाजार को तोड़ दिया गया। इस दौरान दूध विक्रेताओं द्वारा विरोध किया गया और जमकर हंगामा किया गया।

अतिक्रमण ध्वस्त किए जाने के बाद मौके पर पहुंचे पटना के आयुक्त आनंद किशोर ने बताया कि अतिक्रमण मुक्त हुए दूध बाजार की जगह स्मार्ट पार्किं ग जोन बनेगा। स्मार्ट सिटी प्रोजेक्ट के तहत इसे विकसित किया जाएगा।

इस बीच, बुधवार रात तेजस्वी दूध बाजार पहुंचे और अपने समर्थकों के साथ वहीं धरने पर बैठ गए। तेजस्वी ने कहा कि यहां 10 हजार दूध विक्रेताओं के रोजगार को छीन लिया गया। उन्होंने कहा कि इन दूध विक्रेताओं को सरकार सड़क पर ले आई।

उन्होंने कहा कि इस सरकारी जमीन पर बिहार सरकार द्वारा दूध विक्रेताओं के लिए बाजार बनाए गए थे। उन्होंने आारोप लगाया कि बिहार सरकार केवल अमीरों की बात सुन रही है। उन्होंने कहा कि जब तक इन्हें न्याय नहीं मिलता, वह धरना से नहीं उठेंगे।

उन्होंने दूध विक्रेताओं के लिए वैकल्पिक व्यवस्था करने की मांग की।

--आईएएनएस

Related News

Leave a Comment