अस्थायी प्रावधान हटाने में ही 70 साल लग गए : मोदी

पेरिस, 23 अगस्त (आईएएनएस)। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अपने राजनीतिक विरोधियों पर अप्रत्यक्ष रूप से कटाक्ष करते हुए शुक्रवार को अनुच्छेद-370 को निरस्त करने के संदर्भ में भगवान राम और कृष्ण का जिक्र किया। उन्होंने कहा कि यह विडंबना है कि ऐसी मजबूत सांस्कृतिक विरासत वाले देश को एक अस्थायी प्रावधान को खत्म करने में 70 साल लग गए।

प्रधानमंत्री ने यहां यूनेस्को मुख्यालय में भारतीय समुदाय को संबोधित करते हुए कहा, भारत में अस्थायी के लिए कोई गुंजाइश नहीं है। आपने देखा होगा कि महात्मा गांधी, गौतम बुद्ध, राम व कृष्ण की भूमि वाले 125 करोड़ लोगों के देश को अस्थायी प्रावधान को हटाने में 70 साल लग गए। मुझे नहीं पता कि इस पर हंसा जाए या रोया जाए।

उन्होंने कहा कि भारत अब सुधार, प्रदर्शन और परिवर्तन (रिफार्म-परफॉर्म एंड ट्रांसफॉर्म) के सिद्धांतों के आधार पर अपने लक्ष्यों की ओर अग्रसर है।

मोदी ने द्विपक्षीय संबंधों को मजबूत करने में फ्रांस में भारतीय समुदाय की भूमिका की सराहना की। उन्होंने कहा, आपका योगदान इंडो-फ्रेंच संबंधों का अभिन्न अंग है। आप फ्रांस में भारत के प्रतिनिधि, आवाज और पहचान हैं। मुझे आशा है कि आप यहां इस आवाज को मजबूत करते रहेंगे।

उन्होंने कहा, आपकी उपलब्धियां हमें गर्वित करती हैं। कई भारतीय फ्रांस की संसद के सदस्य हैं। यह हमें गर्व से भर देता है। मुझे खुशी है कि आपने अपने भारतीय मूल्यों को बिना खोए फ्रांसीसी कानूनों और संस्कृति के बारे में सीखा और इन्हें अपनाया।

प्रधानमंत्री ने जन्माष्टमी के अवसर पर सभी को बधाई दी। मोदी ने कहा कि उन्होंने सुना है कि गणेश चतुर्थी पेरिस में एक प्रमुख त्योहार के तौर पर मनाई जाती है। उन्होंने कहा, मैंने सुना है कि इस त्योहार के दौरान पेरिस एक मिनी इंडिया में बदल जाता है। हम जल्द ही गणपति बप्पा सुनेंगे।

--आईएएनएस

Related News

Leave a Comment