बहरीन शनिवार को करेगा मोदी की मेजबानी

नई दिल्ली, 23 अगस्त (आईएएनएस)। बहरीन के किंग हमद बिन इसा अल खलीफा द्वारा जम्मू-कश्मीर मुद्दे पर पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान को नजरअंदाज किए जाने के कुछ दिनों बाद प्रमुख इस्लामिक देश प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की मेजबानी शनिवार को करेगा और द्विपक्षीय संबंधों को बढ़ाने पर चर्चा करेगा।

भारतीय प्रधानमंत्री का पहला बहरीन का दौरा होगा और इसका महत्व और भी बढ़ गया है, क्योंकि यह ऐसे समय में हो रहा है, जब पाकिस्तान निराशा में मुस्लिम देशों से समर्थन पाने की कोशिश कर रहा है। भारत द्वारा जम्मू-कश्मीर के विशेष दर्जे को खत्म करने के बाद पाकिस्तान समर्थन जुटाने में लगा है। भारत ने इस महीने की शुरुआत में जम्मू-कश्मीर को दो केंद्र शासित प्रदेशों में बांट दिया।

पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान ने अपने प्रयास के तहत बहरीन के राजा से भारत के जम्मू-कश्मीर के कदम पर शिकायत करने का आह्वान किया था। हालांकि, किंग हमद भारत की आलोचना से दूर रहे और खान से कहा कि बहरीन कश्मीर के हालात पर कश्मीर करीब से नजर रखे हुए हैं और सभी मुद्दे बातचीत के जरिए हल किए जाने चाहिए।

पाकिस्तान को भारत के खिलाफ समर्थन हासिल करने के प्रयास में दुनिया के देशों से झिड़की का सामना करना पड़ा है।

बहरीन सरकार ने जम्मू-कश्मीर के घटनाक्रम पर भारत के खिलाफ ईद के दिन कुछ पाकिस्तानी प्रदर्शनकारियों के आयोजन को हल्के में नहीं लिया। बहरीन सरकार ने इस पर कार्रवाई की। इसके गृह विभाग ने तस्वीरों को ट्वीट किया और कहा कि स्थानीय पुलिस ने प्रदर्शनकारियों के खिलाफ कानूनी कार्यवाही शुरू की है।

बहरीन में 3,50,000 भारतीय नागरिक हैं, जो देश के विकास में योगदान दे रहे हैं। बहरीन में 3000 से ज्यादा भारतीय स्वामित्व/संयुक्त उपक्रम भी मौजूद हैं, जो दोनों देश के बीच गहरे आर्थिक जुड़ाव का संकेत देता है।

यात्रा के दौरान मोदी, बहरीन के प्रधानमंत्री प्रिंस शेख खलीफा बिन सलमान अल खलीफा से द्विपक्षीय संबंधों के सभी आयामों व आपसी हित के क्षेत्रीय व अंतर्राष्ट्रीय मुद्दों पर चर्चा करेंगे।

--आईएएनएस



Source : ians

Related News

Leave a Comment