पूर्व वित्तमंत्री अरुण जेटली पंचतत्व में विलीन (लीड-1)

नई दिल्ली, 25 अगस्त (आईएएनएस)। पूर्व केंद्रीय वित्तमंत्री अरुण जेटली को रविवार को पूरे राजकीय सम्मान के साथ अंतिम विदाई दी गई। उनकी अंत्येष्टि यहां यमुना किनारे निगमबोध घाट पर हुई। बेटे रोहन जेटली ने उन्हें मुखाग्नि दी।

भारतीय जनता पार्टी के वरिष्ठ नेता अरुण जेटली का लंबी बीमारी के बाद शनिवार को यहां के अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान में का निधन हो गया था। वह 66 साल के थे।

उनका पार्थिव शरीर उनके आवास से रविवार सुबह दीनदयाल उपाध्याय मार्ग स्थित भाजपा मुख्यालय लाया गया, जहां उनके अंतिम दर्शन के लिए भारी तादाद में लोग पहुंचे।

पार्टी मुख्यालय में दिवंगत नेता को श्रद्धांजलि देने वालों में केंद्रीय मंत्री अमित शाह, हर्षवर्धन, राजनाथ सिंह व पीयूष गोयल, झारखंड के मुख्यमंत्री रघुबर दास, भाजपा के कार्यकारी अध्यक्ष जे.पी. नड्डा शामिल थे।

जेटली को याद करते हुए उनके करीबी दोस्त और टीवी एंकर रजत शर्मा ने कहा, उनके जैसा दोस्त कभी नहीं मिल सकता। उनके दिखाए रास्ते पर हमेशा चलता रहूंगा।

--आईएएनएस

Related News

Leave a Comment