कोहली ने गांगुली को पीछे छोड़ा, धोनी की बराबरी की

एंटिगा, 26 अगस्त (आईएएनएस)। भारतीय कप्तान विराट कोहली ने विदेशी धरती पर सबसे ज्यादा टेस्ट मैच जीतने के पूर्व कप्तान सौरभ गांगुली के रिकॉर्ड तोड़ दिया है।

भारत ने मैन आफ द मैच और उपकप्तान अजिंक्य रहाणे (102) के शतक के बाद तेज गेंदबाज जसप्रीत बुमराह (7 रन पर 5 विकेट) की शानदार गेंदबाजी के दम पर यहां सर विवियन रिचर्डस स्टेडियम में खेले गए पहले टेस्ट मैच के चौथे दिन रविवार को मेजबान वेस्टइंडीज को 318 रनों से करारी मात देकर दो मैचों की टेस्ट सीरीज में 1-0 की बढ़त बना ली और अपने पहले विश्व टेस्ट चैम्पियनशिप मैच में 60 अंक हासिल कर लिया।

कोहली ने इसके साथ ही घर के बाहर बतौर कप्तान सबसे ज्यादा टेस्ट मैच जीतने के गांगुली के रिकॉर्ड को तोड़ दिया। घर के बाहर बतौर कप्तान कोहली की यह 12वीं जीत है जबकि गांगुली ने घर के बाहर बतौर कप्तान 11 मैचों में जीत दर्ज की थी। गांगुली ने जहां 28 मैचों में यह उपलब्धि हासिल की थी वहीं कोहली ने 26 मैचों में कारनामा किया है।

भारत के 419 रनों के लक्ष्य के जवाब में वेस्टइंडीज ने लंच तक 15 रन के अंदर ही अपने पांच विकेट गंवा दिए थे। लंच के बाद मेजबान टीम 85 रन और जोड़कर 100 रन पर ढेर हो गई और उसे 318 से करारी हार का सामना करना पड़ा।

भारत की टेस्ट क्रिकेट में यह चौथी सबसे बड़ी जीत है। वहीं, घर के बाहर उसकी यह सबसे बड़ी जीत है।

कोहली ने साथ ही एक और उपलब्धि हासिल की। उन्होंने बतौर भारतीय कप्तान सबसे ज्यादा टेस्ट मैच जीतने के पूर्व कप्तान महेंद्र सिंह धोनी के रिकॉर्ड की बराबरी कर ली है। धोनी और कोहली बतौर कप्तान अब तक 27-27 टेस्ट मैच जीत चुके हैं।

हालांकि धोनी ने जहां 60 मैचों में बतौर कप्तान 27 मैच जीते थे, वहीं कोहली ने 47 मैचों में ही बतौर कप्तान 27 मैच जीते हैं।

--आईएएनएस

Related News

Leave a Comment