भाजपा नेता पर छात्राओं की जिंदगी तबाह करने का आरोप लगाने वाली छात्रा लापता

शाहजहांपुर (उत्तर प्रदेश), 27 अगस्त (आईएएनएस)। पूर्व केंद्रीय मंत्री एवं भाजपा नेता स्वामी चिन्मयानंद पर कई लड़कियों की जिंदगी तबाह करने का आरोप लगाने वाली एसएस लॉ कॉलेज की छात्रा अपने छात्रावास से लापता हो गई है।

जहां स्थानीय पुलिस अधिकारियों ने इस घटना पर अनभिज्ञता व्यक्त की है, वहीं उत्तर प्रदेश के पुलिस महानिदेशक (डीजीपी) ओ. पी. सिंह ने उनके पिता की शिकायत पर प्राथमिकी दर्ज करने का आदेश दिया है।

लड़की ने पिछले हफ्ते सोशल मीडिया पर एक वीडियो पोस्ट किया था। इसमें आरोप लगाया गया था कि स्वामी चिन्मयानंद, जो उनके कॉलेज के निदेशक हैं, उन्हें और उनके परिवार को खत्म करने की धमकी दे रहे हैं, क्योंकि उनके पास कुछ सबूत हैं, जो उन्हें मुसीबत में डाल सकते हैं।

लड़की ने वीडियो में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की मदद भी मांगी थी।

लड़की ने कहा, मैं (नाम हटा दिया गया है) शाहजहांपुर से हूं और एसएस कॉलेज से एलएलएम कर रही हूं। संत समाज का एक बड़ा नेता, जिसने कई लड़कियों की जिंदगी तबाह कर दी है, उससे मुझे खतरा है। मेरे पास उनके खिलाफ सभी सबूत हैं। मैं मोदी जी और योगी जी से अनुरोध करती हूं कि कृपया मेरी मदद करें। उन्होंने मेरे परिवार को मारने की धमकी भी दी है।

छात्रा ने कहा, केवल मैं ही जानती हूं कि मैं क्या करने जा रही हूं। मोदी जी कृपया मेरी मदद करें। वह एक संन्यासी है और धमकी दे रहा है। पुलिस, जिला मजिस्ट्रेट और बाकी सभी उसकी तरफ हैं और कोई भी उसे नुकसान नहीं पहुंचा सकता है। मैं आप सभी से न्याय के लिए अनुरोध करती हूं।

वीडियो 23 अगस्त को सोशल मीडिया पर पोस्ट किया गया था और लड़की 24 अगस्त से लापता है।

उसके पिता ने चिन्मयानंद के खिलाफ एक लिखित शिकायत दी थी, लेकिन पुलिस ने इस मामले में अभी तक कोई कार्रवाई नहीं की।

लड़की की मां ने संवाददाताओं से कहा, मेरी बेटी रक्षा बंधन पर घर आई। मैंने उससे पूछा कि उसका फोन इतनी बार बंद क्यों रहा। उसने कहा, अगर मेरा फोन लंबे समय तक बंद हो जाता है तो समझ लें कि मैं मुसीबत में हूं। मेरा फोन तभी बंद हो सकता है, जब यह मेरे हाथ में नहीं होगा। मेरी लड़की बहुत दर्द और परेशानी से गुजर रही है, लेकिन उसने कोई भेद नहीं खोला है। उसने बताया कि उसे उसके कॉलेज प्रशासन द्वारा नैनीताल भेजा जा रहा है।

लड़की के पिता ने आरोप लगाया है कि वह कई दिनों से उससे संपर्क करने की कोशिश कर रहे हैं, लेकिन वह असफल रहे हैं।

शाहजहांपुर के एसएसपी एस. चिनप्पा ने वायरल हुए वीडियो के बारे में पूरी तरह अनभिज्ञता जाहिर की। उन्होंने लड़की के पिता द्वारा दर्ज कराई गई शिकायत के बारे में भी अनभिज्ञता जाहिर की।

पिछले साल योगी आदित्यनाथ सरकार ने स्वामी चिन्मयानंद के खिलाफ दर्ज दुष्कर्म और अपहरण का मुकदमा वापस लेने का फैसला किया था। उनके खिलाफ एक लड़की की शिकायत पर नवंबर 2011 में एफआईआर दर्ज हुई थी, जिसने उनके आश्रम में कई साल बिताए थे।

--आईएएनएस



Source : ians

Related News

Leave a Comment