रविदास मंदिर मामला : दलित कार्यकर्ता बेमियादी विरोध प्रदर्शन शुरू करेंगे

नई दिल्ली, 27 अगस्त (आईएएनएस)। गुरु रविदास जयंती समारोह समिति के सदस्य दक्षिणी दिल्ली के तुगलकाबाद इलाके में तोड़े गए संत रविदास मंदिर के स्थान पर फिर से मंदिर निर्माण के लिए दबाव बनाने के मकसद से 30 अगस्त से जंतर मंतर पर अनिश्चितकालीन धरना शुरू करने जा रहे हैं।

मंदिर पुनर्निर्माण के लिए चलाए जा रहे आंदोलन का नेतृत्व कर रहे सुखदेव वाघमारे महाराज ने मंगलवार को यह जानकारी दी। उन्होंने 21 अगस्त को आंदोलन के दौरान गिरफ्तार किए गए 96 आंदोलनकारियों को रिहा करने की मांग भी की।

उन्होंने कहा, हम तबतक के लिए धरने पर बैठने जा रहे हैं, जबतक कि भूमि वापस गुरु रविदास जयंती समारोह समिति को नहीं सौंप दी जाती और मंदिर का मूल स्थान पर पुनर्निर्माण नहीं हो जाता।

उन्होंने कहा, हम पुलिस द्वारा गिरफ्तार किए गए 96 लोगों को रिहा करने की भी मांग करते हैं। हम मानते हैं कि कुछ बाहरी लोगों ने 21 अगस्त को हंगामा किया था।

उल्लेखनीय है कि 21 अगस्त को दलित प्रदर्शनकारी उस समय हिंसक हो गए थे, जब पुलिस ने उन्हें ध्वस्त मंदिर स्थल की ओर जाने से रोक दिया था। दिल्ली विकास प्राधिकारण ने 10 अगस्त को सर्वोच्च न्यायालय के आदेश पर मंदिर को ध्वस्त कर दिया था।

भीड़ ने पुलिस पर पथराव किया था, जिसमें कई पुलिसकर्मी घायल हो गए थे, और प्रदर्शनकारियों ने कई वाहनों में तोड़फोड़ भी की थी। पुलिस ने हिंसा के संबंध में 96 लोगों को गिरफ्तार किया था।

--आईएएनएस

Related News

Leave a Comment