दिल्ली कांग्रेस अध्यक्ष की घोषणा सप्ताहांत से पहले

नई दिल्ली, 28 अगस्त (आईएएनएस)। दिल्ली कांग्रेस अध्यक्ष का इंतजार सप्ताहांत से पहले खत्म हो सकता है।

पार्टी सूत्रों के अनुसार, कांग्रेस पहले चुनावी राज्य हरियाणा पर ध्यान केंद्रित करेगी। भाजपा सरकार का हरियाणा में कार्यकाल अक्टूबर में समाप्त हो रहा है, जबकि अरविंद केजरीवाल की अगुवाई वाली दिल्ली की आप सरकार का कार्यकाल फरवरी में समाप्त होगा।

कांग्रेस के एक नेता ने आईएएनएस से कहा, जैसा कि हरियाणा में दिल्ली से पहले चुनाव होने की संभावना है तो पार्टी पहले हरियाणा इकाई के लिए नए नामों की घोषणा करेगी। इन नामों की घोषणा बुधवार को या गुरुवार को हो सकती है।

इसके बाद दिल्ली इकाई के अध्यक्ष के नाम की घोषणा अगले तीन दिनों में हो सकती है।

कांग्रेस की अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गांधी ने मंगलवार को दिल्ली इकाई के नेताओं के साथ बैठक की।

शीला दीक्षित के 20 जुलाई के निधन के बाद से कांग्रेस की दिल्ली इकाई के अध्यक्ष की तलाश जारी है। शीला दीक्षित लगातार तीन कार्यकाल तक 1998 से 2013 तक दिल्ली की मुख्यमंत्री रही थीं।

कांग्रेस के लिए विधानसभा चुनाव महत्वपूर्ण हैं, क्योंकि कांग्रेस के लिए दिल्ली में वापसी का यह मौका होगा, जहां कांग्रेस ने 15 सालों तक शासन किया। इसके बाद 2015 में आम आदमी पार्टी (आप) भारी जीत के साथ दिल्ली की सत्ता में आई।

कांग्रेस का वोट प्रतिशत 2013 के 24.55 फीसदी से 2015 में गिरकर 9.65 फीसदी हो गया।

शीला दीक्षित के कांग्रेस अध्यक्ष पद पर वापसी के साथ 2019 के लोकसभा चुनाव में कांग्रेस का वोट प्रतिशत 22.46 फीसदी हो गया, जो 2014 में 15.10 फीसदी था। कांग्रेस ने लोकसभा चुनाव में भाजपा के बाद दिल्ली में दूसरा स्थान हासिल किया, जिससे आप हैरान रह गई।

--आईएएनएस

Related News

Leave a Comment