अफगानिस्तान में शांति समझौते के बाद नाटो सुरक्षा बलों की मदद करेगा

काबुल, 29 अगस्त (आईएएनएस)। नॉर्थ एटलांटिक ट्रीटी ऑर्गनाइजेशन (नाटो) की तरफ से अफगानिस्तान के लिए नियुक्त वरिष्ठ नागरिक प्रतिनिधि निकोलस के ने कहा कि शांति समझौते के बाद भी राष्ट्रीय रक्षा और देश की सुरक्षा बलों का समर्थन करने के लिए अंतर्राष्ट्रीय बल अफगानिस्तान में रहेगा।

टोलो न्यूज के अनुसार, काबुल में बुधवार को मॉडल युनाइटेड नेशन की बैठक को संबोधित करते हुए के ने कहा कि इसके अलावा नाटो 28 सितंबर को होने वाले राष्ट्रपति चुनाव के आयोजन में अफगान सरकार और देश के चुनाव प्रबंधन निकाय की भी मदद करेगा।

के ने कहा कि जब तक देश के सभी खतरों को खत्म नहीं कर दिया जाता, तब तक अफगानिस्तान में नोटो के सैन्य बलों की जरूरत है।

निकोलस के ने कहा, मैं आपको बहुत स्पष्ट रूप से आश्वस्त करता हूं कि नाटो कहीं नहीं जा रहा है, नाटो अफगानिस्तान राष्ट्रीय रक्षा व सुरक्षा बलों के समर्थन के लिए प्रतिबद्ध है।

तालिबान के साथ वाशिंगटन के शांति प्रयासों से क्या यह उम्मीद की जाए कि अफगानिस्तान में राष्ट्रपति चुनाव तय समय-सीमा में होगा? इसके जवाब में नाटो के दूत ने कहा कि चुनाव के संचालन में गठबंधन अफगानिस्तान का पूरा सहयोग करेगा।

--आईएएनएस

Related News

Leave a Comment