निशानेबाजी विश्व कप में मिले स्वर्ण से आत्मविश्वास बढ़ेगा : वालारिवन (लीड-1)

रियो डी जनेरियो, 29 अगस्त (आईएएनएस)। भारत की ईलावेनिल वालारिवन ने शानदार प्रदर्शन करते हुए यहां जारी आईएसएसएफ विश्व कप में महिलाओं के 10 मीटर एयर राइफल वर्ग में स्वर्ण पदक अपने नाम किया है।

सीनियर स्तर में वालारिवन का यह पहला साल है। उन्होंने बुधवार को 251.7 अंक अर्जित किए और सोने पर कब्जा किया।

जीत के बाद वालारिवन ने कहा, मैं इस जीत से बहुत खुश हूं और इसके कारण अन्य राष्ट्रीय एवं अंतर्राष्ट्रीय टूर्नामेंट में भाग लेने से पहले मेरा आत्मविश्वास बढ़ेगा।

वालारिवन को पूर्व ओलम्पिक पदक विजेता गगन नारंग मेंटोर करते हैं। वालारिवन ने कहा, मैं वास्तव में इस उपलब्धि से बहुत उत्साहित हूं और अपने मेंटोर गगन सर, मेरे कोच नेहा मैम और मेरे मानसिक प्रशिक्षक कीर्तिका मैम को धन्यवाद देना चाहती हूं जिन्होंने मुझे इतनी अच्छी तरह से प्रशिक्षित किया है। उनके सही मार्गदर्शन के बिना यह संभव नहीं होता

नारंग ने ट्विटर पर वालारिवन को बधाई दी, राष्ट्रीय खेल दिवस और बेहतर हो गया। ईलावेनिल वालारिवन ने उसी दिन सीनियर विश्व कप में अपना स्वर्ण जीता जिस दिन जीएनएसएफ (गगन नारंग स्पोर्ट्स प्रमोशन फाउंडेशन) को उसके कार्यो के लिए राष्ट्रीय खेल प्रत्साहन पुरस्कार से सम्मानित किया जा रहा है।

अंजुम मुदगिल और अपूर्वी चंदेला पदक इस टूर्नामेंट में नहीं जीत पाईं। दोनों खिलाड़ी छठे और 11वें पायदान पर रहीं।

चंदेला और अंजली भागवत के बाद आईएसएसएफ विश्व कप के 10 मीटर एयर राइफल स्पर्धा में स्वर्ण जीतने वाली 20 वर्षीय वालारिवन तीसरी भारतीय खिलाड़ी हैं।

भारत ने इस स्पर्धा में पहले ही अधिकतम दो ओलम्पिक कोटे हासिल कर लिए हैं। इसलिए चीनी ताइपे की यिंग-शिन लिन को एक कोटा मिला जबकि दूसरा कोटा ईरान ने जीता।

इस साल की शुरुआत में म्यूनिख में हुए विश्व कप में वालारिवन पदक जीतने से चूक गई थी और 208.3 अंकों के साथ चौथे पायदान पर रही थी।

--आईएएनएस



Source : ians

Related News

Leave a Comment