मैंने जितनी फिल्में की हैं, उनमें छिछोरे ज्यादा मुश्किल थी : ताहिर

फिल्म काय पो छे और वन बाई टू जैसी फिल्मों में स्पेशल एपीरियंस वाले रोल करने के बाद 2014 में मर्दानी में मिले खलनायक के किरदार से लोकप्रिय हुए। इसके बाद उन्होंने फोर्स 2 और मंटो के जरिए अपनी लोकप्रियता बनाए रखी। अब वह अपनी आगामी फिल्म छिछोरे को लेकर आशान्वित हैं।

ताहिर ने कहा, मेरे द्वारा की गई अब तक की फिल्मों में छिछोरे सबसे अधिक कठिन रही। सबसे पहले मुझे एक स्पोर्ट्स चैंपियन के किरदार में फिट होने के लिए और कॉलेज के खिलाड़ी की तरह दिखने के लिए अपने शरीर को तोड़ना पड़ा। खेल के साथ ही मुझे अलग-अलग खेल में प्रतिस्पर्धा करते हुए एक कॉलेज ड्रामा के भावनात्मक ग्राफ और हल्केपन को भी संतुलित कर के चलना था। दोनों को साथ लेकर चलने में मैं बहुत थक जाता था।

अभिनेता ने आगे कहा, अपने किरदार डेरेक के लिए मैंने चार महीने अलग-अलग खेल, जैसे दौड़, फुटबॉल, कबड्डी और वॉलीबॉल में प्रशिक्षण लिया। मुझे हर दिन राष्ट्रीय कोचों के साथ चार से पांच घंटे तक प्रैक्टिस करनी पड़ती थी।

उन्होंने कहा कि फिल्म के ट्रेलर के लिए दौड़ने वाला शॉट उनके लिए सबसे बड़ी चुनौती थी।

--आईएएनएस

Related News

Leave a Comment