विश्व आर्थिक विकास का इंजन बन चुका चीन

बीजिंग, 30 अगस्त (आईएएनएस)। चीनी राष्ट्रीय सांख्यिकी ब्यूरो द्वारा जारी एक रिपोर्ट से जाहिर है कि 2006 से विश्व आर्थिक विकास में चीन की योगदान दर विश्व में पहले स्थान पर रही है। चीन विश्व आर्थिक विकास का इंजन बन चुका है।

नए चीन की स्थापना के पिछले 70 सालों में विश्व में चीन के प्रमुख आर्थिक व सामाजिक मापदंड का अनुपात, अंतर्राष्ट्रीय स्थान और अंतर्राष्ट्रीय प्रभाव में भारी उन्नति आई है। रिपोर्ट से जाहिर है कि 1961 से 1978 तक विश्व आर्थिक विकास में चीन की औसत सालाना योगदान दर 1.1 प्रतिशत थी, जबकि 2013 से 2018 तक औसत सालाना योगदान दर 28.1 प्रतिशत तक उन्नत हो गई।

पिछले 70 सालों में चीन की आर्थिक शक्ति में उल्लेखनीय विकास हुआ।

1952 में चीन का जीडीपी केवल 30 अरब अमेरिकी डॉलर था, जबकि 2018 में चीन का जीडीपी 136.082 खरब अमेरिकी डॉलर तक पहुंच गया, जो 1952 की तुलना में 452.6 गुना है।

विश्व बैंक के आंकड़े बताते हैं कि 1962 में चीन में औसत जीएनआई सिर्फ 70 अमेरिकी डॉलर था, जबकि 2018 में यह संख्या 9470 अमेरिकी डॉलर तक जा पहुंचा। 1978 में चीन की ग्रामीण गरीब आबादी 77 करोड़ थी, जबकि 2018 के अंत तक यह संख्या 1.66 करोड़ तक कम हो गई। साथ ही चीन संयुक्त राष्ट्र सहस्त्राब्दी विकास लक्ष्य के गरीबी उन्मूलन लक्ष्य को साकार करने वाला पहला देश भी है।

(साभार-चाइना रेडियो इंटरनेशनल, पेइचिंग)

-- आईएएनएस

Related News

Leave a Comment