सीआईएसएफ ने लौटाए लावारिस मिले 2 लाख रुपये

नई दिल्ली, 10 सितम्बर (आईएएनएस)। हवाईअड्डा और मेट्रो की सुरक्षा में तैनात केंद्रीय औद्योगिक सुरक्षा बल (सीआईएसएफ) के जवानों ने एक बार फिर ईमानदारी की मिसाल कायम की है। सीआईएसएफ के एक सहायक उप-निरीक्षक और उसकी टीम ने एक मेट्रो स्टेशन पर लावारिस हालत में मिले दो लाख रुपये से भरे बैग को उसके असली मालिक तक पहुंचा दिया।

सीआईएसएफ के प्रवक्ता सहायक उप-महानिरीक्षक हेमेंद्र सिंह ने आईएएनएस को बताया, घटना मंगलवार दोपहर इंदिरा गांधी अंतर्राष्ट्रीय हवाईअड्डा मेट्रो स्टेशन की है। उस वक्त बल के सहायक उप-निरीक्षक हरि सिंह ड्यूटी पर थे।

हेमेंद्र ने बताया कि एएसआई हरि सिंह की नजर सामान की जांच करने वाली जगह पर मौजूद एक लावारिस बैग पर पड़ी। इधर-उधर मौजूद यात्रियों से पूछा मगर बैग की जिम्मेदारी किसी ने नहीं ली। बाद में बैग को जब एहतियातन खोला गया, तो उसके अंदर दो लाख रुपये रखे मिले।

सीआईएसएफ प्रवक्ता ने बताया, कुछ समय बाद जमशेदपुर (झारखंड) निवासी मोहन कुमार पाण्डेय आईजीआई मेट्रो स्टेशन पहुंचे। उन्होंने सीआईएसएफ के जवानों से कोई लावारिस बैग बरामद होने के बारे में पूछा। पुष्टि होने पर दो लाख रुपये और बैग उसके वारिस के हवाले कर दिया गया।

प्रवक्ता के अनुसार, पूछताछ के दौरान पीड़ित ने सीआईएसएफ को बताया कि जांच के दौरान वह रुपयों से भरा बैग आईजीआई मेट्रो स्टेशन पर ही जल्दबाजी में भूल गए थे। द्वारका सेक्टर-21 मेट्रो स्टेशन पर उन्हें बैग का ख्याल आया। तब वह आईजीआई मेट्रो स्टेशन पर वापस पहुंचे और बैग मय रुपयों को हासिल किया।

-- आईएएनएस

Related News

Leave a Comment