अमेठी-रायबरेली के 5 रेलवे स्टेशन पर वाईफाई सुविधा शुरू

अमेठी, 11 सितंबर (आईएएनएस)। केंद्रीय महिला एवं बाल विकास व कपड़ा मंत्री स्मृति ईरानी ने अमेठी-रायबरेली रेलखंड के पांच रेलवे स्टेशन अमेठी, ताला, मिश्रौली, गौरीगंज, बनी, जायस व फुरसतगंज पर वाईफाई सुविधा की शुरुआत की।

स्मृति ईरानी बुधवार को दो दिवसीय दौरे पर अपने संसदीय क्षेत्र पहुंचीं। अमेठी-रायबरेली रेलखंड पर 550 करोड़ रुपये की लागत से चल रहे रेलवे लाइन के डबलिंग के कार्यों का केंद्रीय मंत्री ने अमेठी से गौरीगंज तक विशेष ट्रेन से डीआरएम के साथ निरीक्षण भी किया। साथ ही पांच रेलवे स्टेशन पर वाईफाई सुविधा का शुभारंभ किया।

मानवरहित रेलवे क्रासिंगों को बंद करने व गौरीगंज रेलवे स्टेशन पर स्थायी जीआरपी पुलिस चौकी खोले जाने की बात भी केंद्रीय मंत्री ने कही।

मंत्री ने कहा, फुरसतगंज में स्थानीय किसानों की सहूलियत के लिए विशेष सुविधाओं वाला स्टेशन विकसित किया जाएगा, जिससे किसान अपनी फसलों का दूर दूर तक व्यापार कर सकेंगे। उन्होंने अमेठी को सलोन के रास्ते ऊंचाहार से जोड़ने वाली रेलवे लाइन के निर्माण का काम शीघ्र शुरू कराए जाने की बात कही।

इस दौरान डीआरएम संजय त्रिपाठी ने बताया, पहले फेज में अमेठी से गौरीगंज 13.37 किमी तक रेलवे लाइन के दोहरीकरण व स्टेशन भवन निर्माण का काम दिसंबर 2019 तक हर हाल में पूरा कर लिया जाएगा। फेज टू में गौरीगंज से जायस 17.94 किमी का काम मार्च 2020 में पूरा होगा, जबकि फेज थ्री में जायस से रायबरेली 28.74 किमी रेलवे लाइन दोहरीकरण का कार्य सितंबर 2020 तक पूरा करने का लक्ष्य रखा गया है। गौरीगंज रेलवे स्टेशन पर छह सौ मीटर लंबा बुड सेट निर्माण किया जाएगा, जिससे यहां के लोगों को माल ढुलाई की सुविधा हासिल होगी।

केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी का काफिला जिले स्थित ताला गांव में मुकुटनाथ मंदिर के पास पहुंचा। यहां उन्होंने दीदी और सरकार आपके द्वार कार्यक्रम के तहत चौपाल लगाई। इस दौरान उन्होंने एक-एक कर लोगों समस्याएं सुनीं और अधिकारियों को निस्तारण के लिए निर्देशित किया।

मुसाफिरखाना के गौरीगंज मार्ग पर ओवरब्रिज के नीचे ईरानी के विरोध में पोस्टर लगाए गए थे। पोस्टर पर लिखा है -अमेठी के किसानों का अपमान करने वाली सांसद स्मृति ईरानी आप बताइए कि आपने अमेठी में कहां किसानों को कीचड़ से अनाज चुनते हुए देखा। पोस्टर में जय बहादुर यादव का नाम लिखा है।

ईरानी भाजपा के जिलाध्यक्ष दुर्गेश त्रिपाठी के घर जगदीशपुर मिश्रौली गांव पहुंचीं। जिलाध्यक्ष के माता का अभी कुछ दिनों पहले निधन हो गया था। केंद्रीय मंत्री ने शोक संवेदना व्यक्त की और परिजनों से मुलाकात की।

-- आईएएनएस

Related News

Leave a Comment