कजाकस्तान के राष्ट्रपति शी चिनफिंग मिले

बीजिंग, 12 सितम्बर (आईएएनएस)। चीनी राष्ट्रपति शी चिनफिंग ने पहली बार चीन की यात्रा पर आए कजाकस्तान के राष्ट्रपति कासिम-जोमार्ट टोकायव के साथ वार्ता की। दोनों नेताओं ने एक स्वर में तय किया कि चीन और कजाकस्तान के बीच स्थायी व्यापक रणनीतिक साझेदारी संबंध का विकास किया जाएगा।

यह गत जून महीने में राष्ट्रपति बनने के बाद टोकायव की पहली चीन यात्रा है।

वार्ता में शी चिनफिंग ने राष्ट्रपति टोकायव से कहा कि नए चीन की स्थापना की 70वीं वर्षगांठ की पूर्व संध्या पर आपकी पहली चीन राजकीय यात्रा का स्वागत है। यह हम दोनों के बीच तीन महीनों के बाद एक बार फिर मुलाकात है, जिससे चीन-कजाकस्तान के बीच द्विपक्षीय संबंध के विकास के प्रति दोनों पक्षों के उच्चस्तरीय महत्व और सौहार्द भरी उम्मीदें भी जाहिर हुईं।

शी चिनफिंग ने कहा कि चीन कजाकस्तान के साथ मिलकर चतुमुर्खी सहयोग मजबूत करना चाहता है, सिल्क रोड आर्थिक पट्टी और प्रकाश मार्ग वाली नई आर्थिक नीति को जोड़ना चाहता है। दोनों देशों के बीच आपसी संपर्क करते हुए थलीय समुद्री रास्ता बेरोकटोक बनाना चाहता है। आर्थिक व्यापारिक सहयोग के स्तर और गुणवत्ता को उन्नत करना चाहता है। उत्पादन क्षमता के सहयोग को आगे बढ़ाना चाहता है। वैज्ञानिक तकनीकी नवाचार और सहयोग का विस्तार करना चाहता है। इसके साथ ही दोनों देशों के बीच मानविकी आदान-प्रदान और स्थानीय आवाजाही को घनिष्ठ बनाना चाहता है।

राष्ट्रपटि टोकायव ने नए चीन की स्थापना की 70वीं वषर्गांठ की बधाई दी और कहा कि पिछले 70 सालों में चीन ने असामान्य प्रक्रिया से गुजर कर विभिन्न क्षेत्रों में शानदार विकसित कामयाबियां हासिल कीं। इससे न केवल चीनी जनता को लाभ मिला, बल्कि विश्व के विकास और मानव जाति की प्रगति के लिए भी महत्वपूर्ण योगदान दिया गया। यह त्योहार न सिर्फ चीनी जनता के लिए, बल्कि सारी दुनिया के लिए भी बहुत महत्वपूर्ण है। विभिन्न देश चीन के विकास पर ध्यान देते हैं।

वार्ता के बाद शी चिनफिंग और टोकायव ने संयुक्त रूप से चीन-कजाकस्तान संयुक्त बयान पर हस्ताक्षर किए और वे रेशम मार्ग आर्थिक पट्टी और प्रकाश मार्ग वाली नई आर्थिक नीति से संबंधित कुछ द्विपक्षीय सहयोगी संधियों पर हस्ताक्षर करने के साझी बने।

(साभार-चाइना रेडियो इंटरनेशनल, पेइचिंग)

-- आईएएनएस



Source : ians

Related News

Leave a Comment