गुरुग्राम में दोस्त ने 7 वर्षीय मासूम के सामने कर दिया मां-बाप का कत्ल

गुरुग्राम, 13 सितम्बर (आईएएनएस)। गुरुग्राम के गांव डूंडाहेड़ा में गुरुवार तड़के दंपत्ति की चाकू से गोदकर हत्या कर दी गई। बदमाशों ने रुह कंपा देने वाले इस दोहरे हत्याकांड को दंपत्ति के 7 साल के बेटे की आंखों के सामने अंजाम दिया। घटनास्थल पर पहुंची क्राइम टीम को शुरुआती जांच में लगा है कि वारदात को अंजाम देने से पहले हत्यारों ने पति को शराब भी पिलाई होगी।

यह जानकारी गुरुग्राम के सहायक पुलिस आयुक्त बिरम सिंह ने दी, जिस मकान में दंपत्ति का कत्ल किया गया, वहां पति-पत्नी किराये पर रहते थे। पत्नी ज्योति के साथ कत्ल किया गया विक्रम सिंह (31) मूलत: चकरनगर बंध, जिला इटावा, यूपी का रहने वाला था।

गुरुग्राम पुलिस के मुताबिक, दोहरे हत्याकांड में संदिग्ध का पता चल गया है। उसका नाम अभिनव है। आरोपी को भीड़ ने मौके पर ही दबोच कर पुलिस के हवाले कर दिया। हत्यारोपी अभिनव और विक्रम काफी पुराने दोस्त थे।

इस सनसनीखेज दोहरे हत्याकांड को अभिनव ने गुरुवार को तड़के तीन से चार बजे के बीच अंजाम दिया। गुरुग्राम पुलिस के मुताबिक, विदेश में नौकरी लगवाने के लिए विक्रम से दो-तीन साल पहले डेढ़ लाख रुपये ले लिए थे। मगर नौकरी नहीं लगवा सका। इसी बात को लेकर घटना वाली रात भी दोनो के बीच नोंकझोंक शुरू हो गई। उसी वक्त अभिनव ने चाकू से विक्रम पर ताबड़तोड़ वार कर दिए। पति को बचाने के लिए जब पत्नी ज्योति बीच में आई तो अभिनव ने चाकू से गोदकर उसे भी मार डाला।

शोर-शराबा सुनकर जब तक मकान मालिक व अन्य लोग कमरे में पहुंचे, कमरे में दंपत्ति का 7 साल का बेटा डरा-सहमा खड़ा हुआ था। भीड़ ने हत्यारोपी अभिनव को चाकू सहित मौके पर ही दबोच लिया। बताया जा रहा है कि विक्रम सिंह एक निजी कंपनी में वरिष्ठ सलाहकार था।

--आईएएनएस

Related News

Leave a Comment