विश्व मुक्केबाजी चैम्पियनशिप : पंघल और मनीष अगले दौर में (लीड-2)

एकातेनिरबर्ग (रूस), 14 सितंबर (आईएएनएस)। एशियाई खेलों के स्वर्ण पदक विजेता स्टार मुक्केबाज अमित पंघल (52 किग्रा) और मनीष कौशिक (63 किग्रा) यहां जारी एआईबीए पुरुष विश्व मुक्केबाजी चैम्पियनशिप के प्री-क्वार्टर फाइनल में पहुंच गए हैं।

चैम्पियनशिप के पहले राउंड में बाई पाने वाले दूसरी सीड पंघल ने शनिवार को अपने 52 किग्रा के दूसरे दौर के मुकाबले में चीनी ताइपे की मुक्केबाज तू पो वेई को 5-0 से करारी शिकस्त दी।

पंघल इससे पहले एशियन चैम्पियनशिप में भी वेई को 3-2 से हरा चुके हैं। प्री-क्वार्टर फाइनल में पंघल का सामना तुर्की के बातुहान सिफकी से होगा।

पंघल ने पहले राउंड में रक्षात्मक रवैया अपनाया। इसके बाद दूसरे राउंड में दोनों मुक्केबाज अधिक आक्रामक अंदाज में नजर आए। पंघल ने तीसरे राउंड में शानदार प्रदर्शन करते हुए विपक्षी खिलाड़ी को वापसी करने का मौका नहीं दिया और जीत अपने नाम कर ली।

भारत के नंबर वन मुक्केबाज ने इस जीत के बाद कहा, आज का मुकाबला काफी अच्छा रहा और विपक्षी मुक्केबाज भी काफी मबजूत था। मैं उनके खिलाफ एशियन चैम्पियनशिप में भी खेल चुका हूं और उन्हें 3-2 से हरा चुका हूं। इस बार मेरी रणनीति अलग थी और मैं शुरू से ही आक्रामक था।

उन्होंने आगे कहा, मेरा अगला प्रतिद्वंद्वी तुर्की का है और वह एक लंबे मुक्केबाज है। मैं पहले उनके मुक्केबाजी का वीडियो देखूंगा और फिर उसी के अनुसार ही अगले राउंड के लिए अपनी रणनीति बनाऊंगा।

अन्य मुकाबले में मनीष भी अगले दौर में पहुंचने में सफल रहे। भारतीय खेल प्राधिकरण (साई) की मिशन ओलम्पिक सेल द्वारा टोक्यो ओलम्पिक-2020 के लिए टारगेट ओलम्पिक पोडियम स्कीम (टॉप्स) में शामिल मनीष ने 63 किग्रा भार वर्ग में नीदरलैंड्स के एनरिको लाकरुज को 5-0 से पराजित करके प्री-क्वार्टर फाइनल में प्रवेश किया।

इस बीच, आशीष कुमार को चीनी प्रतिद्वंद्वी तांगलाथियन तौटीएब्रीक के खिलाफ कड़े मुकाबले में 2-3 से हार का सामना करना पड़ा। इस चैम्पियनशिप में भारत की यह पहली हार है।

इससे पहले, दुर्योधन सिंह नेगी (69 किग्रा), मनीष कौशिक (63 किग्रा) और बृजेश यादव (81 किग्रा) भी अपने-अपने दौर के मुकाबले जीतने में सफल रहे हैं।

--आईएएनएस

Related News

Leave a Comment