बिहार : जाप ने बेटी बचाओ-युवा बचाओ साइकिल मार्च निकाला

पटना, 16 सितंबर (आईएएनएस)। जन अधिकार पार्टी (जाप) के अध्यक्ष और पूर्व सांसद राजेश रंजन उर्फ पप्पू यादव सोमवाार को यहां बेटी बचाओ, युवा बचाओं की मांग को लेकर साइकिल मार्च किया। इस मौके पर सैकड़ों जाप कार्यकर्ता सड़क पर उतरे और साइकिल चलाई।

पूर्व सांसद पप्पू के नेतृत्व में सैकड़ों कार्यकर्ता दारोगा बहाली व शिक्षक नियोजन में मनमानी, नया मोटर वाहन एक्ट और पुलिस की गुंडागर्दी के खिलाफ बेटी बचाओ-युवा बचाओ साइकिल यात्रा पर पटना के आयकर गोलंबर से निकले। यह साइकिल मार्च डाक बंगला चौराहा, फ्रेजर रोड, कारगिल चौक (गांधी मैदान), गांधी मैदान थाना, एग्जीबिशन रोड, डाक बंगला होते हुए आयकर गोलंबर पर समाप्त हुआ।

इस दौरान पप्पू यादव ने बिहार सरकार पर निशाना साधते हुए कहा कि दुनिया की यह पहली सरकार है, जो जनता से वसूली का काम कर रही है। उन्होंने कहा कि नए मोटर वाहन एक्ट जैसे काले कानून की आड़ में लूट को जन अधिकार पार्टी बर्दाश्त नहीं करेगी। उन्होंने सवाल करते हुए कहा कि कांग्रेस शासित राज्यों और पश्चिम बंगाल ने इस काले कानून को लागू नहीं किया, तो क्या उन राज्यों में यातायात के नियम नहीं हैं?

यादव ने कहा कि राज्य सरकार चुनाव के वक्त दारोगा बहाली में बेटियों के साथ छल कर रही हैं। महिलाओं के हक और सम्मान की बात करने वाली नीतीश सरकार बिहार की बेटियों से उनका दारोगा बनने का सपना भी छीन रही है। यही वजह है कि सरकार ने उनकी शारीरिक ऊंचाई का मानदंड 160 सेंटीमीटर रखा है, जो बिहार की भौगोलिक स्थिति को ध्यान में रखते हुए एक मूर्खतापूर्ण फैसला है।

पूर्व सांसद ने बिहार के नौकरियों और रोजगार में 85 प्रतिशत बिहारी नौजवानों की भागीदारी की मांग की। उन्होंने कहा कि बिहार में रोजगार और नौकरियों का घोर अभाव है। खुद राज्य सरकार भी मानती है कि सिर्फ मेडिकल सेक्टर में डॉक्टर और नर्सो की आधे से ज्यादा सीटें खाली हैं।

पूर्व सांसद ने कहा, हमारी मांग है कि सरकार बिहार में रोजगार और नौकरियों में 85 फीसदी बिहारी युवा और नौजवानों की भागीदारी सुनिश्चित करे।

जाप की साइकिल यात्रा में प्रधान महासचिव एजाज अहमद, प्रेमचंद सिंह, राजेश रंजन पप्पू सहित बड़ी संख्या में लोग शामिल हुए।

--आईएएनएस

Related News

Leave a Comment