उपचुनाव में सपा-बसपा और अन्य दल रहेंगे बेहाल : केशव (साक्षात्कार)

लखनऊ, 19 सितंबर (आईएएनएस)। उत्तर प्रदेश के उपमुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य ने कहा कि विधानसभा उपचुनाव में समाजवादी पार्टी और बहुजन समाज पार्टी समेत अन्य दल भाजपा के आगे बेहाल रहेंगे, ये सब बेदम हो जाएंगे।

योगी सरकार के ढाई वर्ष पूर होने पर मौर्य ने आईएएनएस से विशेष बातचीत में कहा कि लोकसभा चुनाव में समाजवादी पार्टी और बहुजन समाज पार्टी मिलकर जब कुछ नहीं कर पाए, तो अब तो उनका गठबंधन भी नहीं बचा है। ये सभी दल प्रदेश में भाजपा के आगे बेहाल रहेंगे। इस चुनाव में ये सब बेदम हो जाएंगे।

उन्होंने कहा, भाजपा एक बार फिर उपचुनाव में अपना कमल खिलाने जा रही है। ये पर्टियां पूरी तरह बिखर चुकी हैं। हम सबका साथ सबके विश्वास की बात कर रहे थे और विपक्ष भेदभाव की, इसलिए जनता हमारे साथ खड़ी हुई।

साल 2016 के पहले केशव प्रसाद प्रदेश भाजपा में पिछड़ों के बड़े नेता माने जाते थे, लेकिन स्वतंत्रदेव के प्रदेश अध्यक्ष बनने और कल्याण सिंह के सक्रिय राजनीति में वापस आने पर उन्होंने कहा, भाजपा पिछड़े वर्ग को महत्व दे रही है। हमारे यहां कार्यकर्ता के नाते सबको उत्तरदायित्व मिलता है। पार्टी योग्यता के हिसाब से चेहरा तय करती है। पार्टी में किसी का जातीय आधार नहीं देखा जाता। जैसे भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी सिर्फ पिछड़े वर्ग नेता नहीं हैं, वह 130 करोड़ जनता की सेवा कर रहे हैं। ऐसे ही केशव प्रदेश 23 करोड़ की जनता की सेवा कर रहा है।

मौर्य ने कहा, भाजपा में जाति-पाति नहीं, बल्कि योग्यता और कार्य के हिसाब से प्राथमिकता मिलती है। नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में जनता का विश्वास और मजबूत हुआ है। यह कोई सामान्य बात नहीं है। मेरे जैसे साधारण कार्यकर्ता को पार्टी ने इतना कुछ दिया है, इतने कम समय में दिया है। यह बहुत बड़ी बात है।

मुख्यमंत्री ने विभागों की जांच करने की बात कही है, यह जिक्र करने पर उन्होंने कहा, यह मुख्यमंत्री का विवेकाधिकार है। वह हमारे मुखिया हैं। विभागों में पारदर्शिता लाने का और उसमें सुधारात्मक कदम उठाने के लिए ऐसे निर्णय होते हैं। वह किसी भी विभाग में जांच करा सकते हैं। इसका स्वागत किया जाना चाहिए। हमलोग योगी जी के नेतृत्व में टीम भावना से काम कर रहे हैं।

सहयोगी दलों को भाजपा में भाव न मिलने पर केशव ने कहा, पार्टी जैसी स्थित देखती है, वैसा ही निर्णय लेती है। जो हमारे साथ थे, वे साथ ही रहेंगे। जो न रहने का व्यवहार करते हैं, वे छोड़कर चले जाते हैं। हमारे दल में सबका स्वागत होता है।

केशव ने कहा, मैं पहले से अधिक सक्रिय हूं। आगे आने वाले समय में और अधिक सक्रिय रहूंगा। मेरी सक्रियता में कहीं कोई कमी नहीं आएगी।

उपमुख्यमंत्री ने कहा, ढाई वर्षो में हमारी सरकार ने हर क्षेत्र में काम किया है। खासकर सड़क के मामले में तो जितना ज्यादा काम हुआ है, उतना सपा-बसपा मिलकर 15 सालों में न कर पाई होंगी। इन दोनों पार्टियों की सरकारों से दस गुना बेहतर काम हमने किया है।

उन्होंने कहा, हमने सड़कों की गुणवत्ता पर विशेष ध्यान दिया है। भ्रष्टाचार पर लगाम लगाई। ई-टेंडर की शुरुआत की है। नवीनत तकनीक का प्रयोग किया। हर्बल और प्लास्टिक का प्रयोग करके रोड बनाई जा रही है। ब्लॉक को तहसील से और तहसील को जिले से जोड़ा गया है। पारदर्शिता के साथ गुणवत्ता का ध्यान रखा गया है। हम सिर्फ स्टेट हाइवे तक सीमित नहीं रहे। 25 सालों से जिन ग्रामीण सड़कों जिनकी ओर किसी ने देखा नहीं, उनका भी जीर्णोद्धार कराया गया है। 2001 की जनगणना में जिन ग्रामों की आबादी 250 थी, जो सड़क मार्गो से नहीं जुड़े थे, उन्हें भी जोड़ा गया है। ये ऐसी उपलबिधयां हैं जो आने वाली पीढ़ी अपने जिले, गांव और प्रदेश का व्यापक विकास देखेंगे।

उपमुख्यमंत्री ने कहा कि प्रतिभाशाली बच्चों के नाम पर सड़कें बन रही हैं। उसका सड़क के उद्घाटन के समय शिलापट पर मेधावी छात्र का नाम लिखा रहेगा। एक सड़क का नाम एपीजे अब्दुल कलाम गौरव पथ रखा गया है।

उन्होंने कहा, गड्ढा मुक्त को लेकर सरकार अभी भी अभियान चला रही है। इसके लिए विरोधियों ने भी हमें सराहा है। हमने निगरानी एप बना रखा है। व्हाट्सएप ग्रुप में जो समस्या आ रही है, उसे भी देखा जा रहा है। गड्ढा मुक्त अभियान से बहुत सारे लोगों को हमने राहत पहुंचाई है। वर्तमान कुल 86 रेल उपरिगामी पथ पर कार्य चल रहे हैं।

केशव ने कहा कि ढाई वर्ष पूरे होने पर उप्र में 80 नई स्टेट हाइवे बनाने जा रहे हैं। जो आने वाले समय में विकास में मील का पत्थर साबित होगा। हर सड़क बनाने से पहले कहां अस्पताल है, कहां क्या सावधानी बरतनी है, इसकी चेतावनी का बोर्ड भी लगाया जा रहा है।

--आईएएनएस



Source : ians

Related News

Leave a Comment