वित्तमंत्री ने की कॉरपोरेट कर घटाने की घोषणा (लीड-1)

नई दिल्ली, 20 सितम्बर (आईएएनएस)। वित्तमंत्री निर्मला सीतारमण ने शुक्रवार को घरेलू कंपनियों के लिए कॉरपोरेट टैक्स की दर 30 फीसदी से घटाकर 22 फीसदी करने की घोषणा की। वहीं, नई विनिर्माण कंपनियों के लिए कॉरपोरेट टैक्स की दर 25 फीसदी से घटा कर 15 फीसदी कर दी गई है। देश की अर्थव्यवस्था को रफ्तार देने के मकसद से उठाया गया सरकार का यह नया कदम है, जिससे उम्मीद की जा सकती है कि निवेश बढ़ेगा।

वित्तमंत्री ने कहा कि यह कदम पूर्वी एशियाई देशों के समान भारत में कॉरपोरेट कर की दर रखने के मकसद से उठाया गया है। कर की दर में यह कटौती एक अप्रैल से लागू होगी और कंपनियों द्वारा अग्रिम में भुगतान किए गए कर का समायोजन किया जाएगा। वित्तमंत्री ने कहा कि इस कदम से 1.45 लाख करोड़ रुपये सालाना राजस्व में कमी आने का अनुमान है।

वित्तमंत्री ने कहा, निवेश को प्रोत्साहन देने के मकसद से आयकर अधिनियम में नया प्रावधान जोड़ा गया है जो वित्त वर्ष 2019-20 से लागू होगा। इस प्रावधान के तहत किसी भी घरेलू कंपनी के पास 22 फीसदी की दर से आयकर का भुगतान करने का विकल्प इस शर्त पर होगा कि वह कंपनी किसी भी तरह की रियायत या प्रोत्साहन प्राप्त नहीं करेगी।

इन कंपनियों के लिए सरचार्ज और सेस समेत प्रभावी कर की दर 25.17 फीसदी होगी। साथ ही, इन कंपनियों को न्यूनतम वैकल्पिक कर का भुगतान करने की आवश्यकता नहीं होगी।

--आईएएनएस

Related News

Leave a Comment