इमरान ने कश्मीर मुद्दा उठाने पर एर्दोगान को शुक्रिया कहा

संयुक्त राष्ट्र, 25 सितम्बर (आईएएनएस)। कश्मीर मामले में दुनिया का समर्थन नहीं पाने से हताश पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान को तुर्की के राष्ट्रपति का सहारा मिला है और इस पर खुशी जताने से वह खुद को रोक नहीं सके हैं। इमरान ने संयुक्त राष्ट्र महासभा में कश्मीर का मुद्दा उठाने पर तुर्की के राष्ट्रपति रेसप तैयप एर्दोगान का शुक्रिया अदा किया है।

पाकिस्तानी मीडिया में प्रकाशित रिपोर्ट के अनुसार, न्यूयार्क में एक संवाददाता सम्मेलन में इमरान ने उम्मीद जताई कि विश्व के और नेता भी कश्मीर में लागू पाबंदी को हटाने के लिए कम से कम भारत से बात करेंगे।

पाकिस्तानी प्रधानमंत्री ने कहा, हम बेहद शुक्रगुजार हैं कि राष्ट्रपति (एर्दोगान) ने एक बहुत सैद्धांतिक रुख अपनाया। उन्होंने कहा कि पाकिस्तान का तुर्की के साथ बेहद अच्छा संबंध है।

इमरान ने बताया कि एर्दोगान अगले महीने इस्लामाबाद की यात्रा करेंगे।

एर्दोगान ने 193 सदस्यीय आम सभा से मंगलवार को कहा कि केवल बातचीत से ही कश्मीर का मामला सुलझाया जा सकता है जो बीते 72 साल से एक समाधान की राह देख रहा है।

उन्होंने कहा कि पाकिस्तानी और भारतीय पड़ोसियों के साथ कश्मीरी लोगों के एक सुरक्षित भविष्य के लिए जरूरी है कि इस मसले का समाधान न्याय और समता के आधार पर बातचीत से निकाला जाए। संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद के प्रस्तावों के बावजूद कश्मीर अभी भी घेराबंदी में है और वहां अस्सी लाख लोग फंसे हुए हैं।

इससे पहले सोमवार को एर्दोगान ने इमरान से मुलाकात की थी।

--आईएएनएस

Related News

Leave a Comment