बिहार : टूट के करीब पहुंचा महागठबंधन, राजद हम व वीआईपी में ठनी (लीड-1)

पटना, 25 सितंबर (आईएएनएस)। बिहार में राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (राजग) को हराने के लिए बना विपक्षी दलों का महागठबंधन अगले साल होने वाले विधानसभा चुनाव के सेमिफाइनल माने जाने वाले उपचुनाव में ही टूट के कगार पर पहुंच गया है।

पांच विधानसभा सीटों और एक लोकसभा सीटों पर होने वाले उपचुनाव को लेकर विपक्षी दलों के महागठबंधन में विवाद बुधवार को सतह पर आ गया।

नाथनगर विधानसभा सीट पर हिंदुस्तानी अवाम मोर्चा (हम) के प्रमुख जीतन राम मांझी ने जहां अजय राय को उम्मीदवार घोषित किया, वहीं राट्रीय जनता दल (राजद) ने भी नाथनगर सीट सहित तीन सीटों पर अपना उम्मीदवार घोषित कर दिया है। इस बीच, हम को विकासशील इंसान पार्टी (वीआईपी) का साथ भी मिला है। वीआईपी ने भी सिमरी बख्तियारपुर से चुनाव लड़ने की घोषणा कर दी।

21 अक्टूबर को बिहार विधानसभा के पांच विधानसभा सीटों नाथनगर, बेलहर, सिमरी बख्तियारपुर, दरौंधा और किशनगंज में उपचुनाव होना है।

राजद ने राबिया खातून को नाथनगर से अपना उम्मीदवार बनाया है, वहीं रामदेव यादव को बेलहर से टिकट दिया गया है। इन दोनों उम्मीदवारों को पूर्व मुख्यमंत्री राबड़ी देवी ने पार्टी का सिंबल दे दिया है। इस बीच राजद ने सिमरी बख्तियारपुर से जफर आलम को भी उम्मीदवार बनाने का फैसला कर लिया है। दरौंदा सीट पर भी राजद अपना उम्मीदवार उतारेगा, यह तय है। हालांकि, कौन उम्मीदवार होगा इसके नाम का अभी खुलासा नहीं हुआ है।

राजद के प्रवक्ता मृत्युंजय तिवारी ने बुधवार को कहा कि महागठबंधन सिर्फ जिद और अहम से नहीं चलता, बल्कि कर्तव्य निर्वाह भी करना पड़ता है। उन्होंने कहा कि मांझी को बिना महागठबंधन के निर्णय के उम्मीदवार घोषित नहीं करना चाहिए था। हम के गठबंधन छोड़ देने के प्रश्न पर राजद नेता ने कहा कि जिसे जहां जाना हो, जा सकता है।

उन्होंने कहा कि कोई भी गठबंधन के लिए अपनी सीट बर्बाद नहीं कर सकता है। राजद जिन चार सीट पर प्रत्याशी उतार रही है, वह राजद की परंपरागत सीट रही है।

इधर, बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री और हम प्रमुख जीतन राम मांझी इस प्रकरण से खासे नाराज बताए जा रहे हैं। हम के प्रवक्ता दानिश रिजवान कहते हैं कि पार्टी ने नाथनगर से अजय राय को उम्मीदवार घोषित किया है। ऐसे में राजद का उम्मीदवार घोषित करना सही नहीं है।

उन्होंने कहा, हमारे साथ धोखा हुआ है। भाजपा के इशारे पर महागठबंधन तोड़ने की कोशिश हो रही है। महागठबंधन तोड़ने वालों को जनता सबक सिखाएगी।

रिजवान ने कहा कि हम, कांग्रेस और हिंदुस्तानी अवाम मोर्चा के प्रत्याशी को मदद करेगी।

इस बीच, वीआईपी पार्टी के प्रमुख मुकेश सहनी ने भी बुधवार को सिमरी बख्तियारपुर से चुनाव लड़ने की घोषणा की है। उन्होंने कहा कि जल्द ही प्रत्याशी की घोषणा की जाएगी। उन्होंने भी हम प्रत्याशी को मदद देने की घोषणा की।

गौरतलब है कि हम पहले राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन में शामिल था, बाद में विपक्षी दलों के महागठबंधन में शामिल हो गया।

बिहार में पांच विधानसभा और एक लोकसभा सीट समस्तीपुर लोकसभा क्षेत्र के लिए 21 अक्टूबर को उपचुनाव होने हैं।

--आईएएनएस

Related News

Leave a Comment