तमिलनाडु : नीट प्रवेश परीक्षा में फर्जीवाड़े के मामले में 3 और गिरफ्तार

चेन्नई, 28 सितम्बर (आईएएनएस)। तमिलनाडु पुलिस प्रथम वर्ष में पढ़ रहे तीन और मेडिकल विद्यार्थियों द्वारा मेडिकल कॉलेज में दाखिले के लिए राष्ट्रीय पात्रता सह प्रवेश परीक्षा(नीट) दूसरों छात्रों से दिलवाने के मामले की जांच कर रही है।

एक छात्रा समेत तीनों विद्यार्थी यहां पास के एक मेडिकल कॉलेज में पढ़ते हैं।

इससे पहले पुलिस ने केरल में छात्र के.वी. उदित सूर्या और उसके डॉक्टर पिता वेंकटेशन और एक एजेंट को प्रवेश परीक्षा में किसी दूसरे छात्र को बिठाने के लिए गिरफ्तार किया था।

इस घोटाले की जांच तमिलनाडु पुलिस की अपराध शाखा अपराध जांच विभाग (सीबीसीआईडी) कर रही है।

सूर्या और उसके पिता वेंकटेशन से पूछताछ से पता चला था कि ऐसे और कई मेडिकल कॉलेज के छात्र हैं जिन्होंने 20 लाख रुपये से ज्यादा की रकम देकर खुद के बदले दूसरों से परीक्षा दिलवाई।

सूर्या तमिलनाडु के थेनी में सरकारी मेडिकल कॉलेज में पढ़ाई कर रहा था।

पुलिस के अनुसार, एसआरएम मेडिकल कॉलेज के प्रवीण, साई सत्य मेडिकल कॉलेज के अबीरामी, बालाजी मेडिकल कॉलेज के राहुल को मामले में पूछताछ के लिए गिरफ्तार किया गया है।

चार छात्रों ने दूसरे छात्रों से दिल्ली, उत्तरप्रदेश, मुंबई में परीक्षाएं दिलवाई।

यह मामला तब प्रकाश में आया जब थेनी में सरकारी मेडिकल कॉलेज के डीन को एक व्यक्ति अशोक कृष्णन से सूर्या के विरुद्ध शिकायत मिली।

शिकायत के अनुसार, सूर्या दो बार नीट में विफल हुआ था। उसने फिर अपना परीक्षा केंद्र मुंबई चुना, जहां उसने दूसरे छात्र से प्रवेश परीक्षा दिलवाई।

कॉलेज प्रशासन ने जांच के दौरान दो अलग-अलग फोटोग्राफ पाए।

इस बीच वेंकटेशन को सेवा से निलंबित कर दिया गया है।

--आईएएनएस

Related News

Leave a Comment