आजादी की लड़ाई में गांधी ने दिया अहिंसा का नया हथियार : योगी

लखनऊ, 2 अक्टूबर (आईएएनएस)। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने बुधवार को कहा कि महात्मा गांधी ने आजादी की लड़ाई को नई ऊंचाई देने के साथ उसे अहिंसा का नया हथियार भी दिया।

मुख्यमंत्री आज यहां इंदिरागांधी प्रतिष्ठान में राष्ट्रपिता महात्मा गांधी की 150वीं जयंती पर आयोजित कार्यक्रम को संबोधित कर रहे थे। उन्होंने कहा, महात्मा गांधी ने जंग-ए-आजादी का ऐसा हथियार दिया, जिसे दुनिया ने पहली बार देखा और इसके असर को महसूस किया। अहिंसा के हथियार से आजादी की लड़ाई को ऊंचाइयों तक ले गए थे।

योगी ने कहा, वह खुद में महामानव थे। यही वजह है कि आज सिर्फ भारत में ही नहीं, पूरी दुनिया में उनकी 150वीं जयंती को धूमधाम से मनाया जा रहा है। आज पूरी दुनिया गांधी के आदर्शो और सिद्घांतों की मुरीद है।

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा, महापुरुषों का जीवन और आदर्श हमको प्रेरणा देते हैं। युवा अपने जीवन को महापुरुषों के जीवन और आदर्श से जोड़कर बेहतर बना सकते हैं।

योगी ने कहा, न्यूनतम पूंजी और जमीन में बिना पर्यावरण को क्षति पहुंचाए स्थानीय स्तर पर अधिकतम रोजगार मुहैया कराने की खूबी के कारण खादी ग्रामोद्योग की इसमें महत्वपूर्ण भूमिका होगी। वह इस भूमिका का बखूबी निर्वहन भी कर रही है।

उन्होंने कहा, दो वर्ष के दौरान विभाग ने अलग-अलग विधा में प्रशिक्षित युवाओं को खादी ग्रामोद्योग द्वारा केंद्र एवं प्रदेश सरकार की विभिन्न योजनाओं से 3350 करोड़ रुपये का ऋण दिया गया। इससे स्थापित इकाइयों में 8,74,000 लोगों को रोजगार मिला। इसके अलावा औद्योगिक इकाइयों में हुए दो लाख करोड़ रुपये के निवेश से 20 लाख लोगों को रोजगार मिला।

मुख्यमंत्री ने कहा कि कीमत और गुणवत्ता के लिहाज से बाजार में टिके रहने के लिए जरूरत के अनुसार तकनीक में बदलाव जरूरी है।

मुख्यमंत्री योगी ने कहा कि पॉलीथिन पर्यावरण, जल जंगल जमीन और गौवंश के लिए हानिकारक है, और हमने प्रदेश को पॉलीथिन मुक्त बनाने का संकल्प लिया है, इसमें आप सब का सहयोग चाहिए।

-- आईएएनएस



Source : ians

Related News

Leave a Comment