उप्र : शिवपाल गए विधानसभा, की योगी की तारीफ

लखनऊ, 3 अक्टूबर (आईएएनएस)। राष्ट्रपिता महात्मा गांधी की 150वीं जयंती पर आयोजित विधानमंडल के विशेष सत्र का विपक्ष द्वारा बहिष्कार किए जाने के बावजूद प्रगतिशील समाजवादी पार्टी (लोहिया) के अध्यक्ष शिवपाल सिंह यादव गुरुवार को विधानसभा पहुंचे और कार्यवाही में हिस्सा लिया।

शिवपाल ने सदन में मुख्यमंत्री योगी के कामकाज की तारीफ करते हुए उन्हें ईमानदार बताया। लेकिन पुलिस की संवेदनशीलता पर सवाल खड़े किए। उन्होंने कहा कि अभी पुलिस को और ठीक करने की जरूरत है।

समाजवादी पार्टी के बागी विधायक ने कहा कि उनके विधानसभा क्षेत्र में पीड़ितों और गरीबों के मुकदमे नहीं लिखे गए। नहरों में पानी नहीं पहुंचा। किसान बेहद परेशान हैं। किसानों पर मनमाने तरीके से जुर्माना लगाया गया।

शिवपाल ने कहा कि इन्वेस्टर्स समिट एक अच्छा कार्यक्रम था, लेकिन जितना सोचा गया, उतना निवेश नहीं हुआ। उन्होंने कहा कि प्रदेश में 22 करोड़ पौधे रोपे गए, जिसकी वह सराहना करते हैं।

विधायक ने आगे कहा, महिलाओं को गैस सिलेंडर दिया गया, यह एक अच्छी योजना है, लेकिन मेरा सुझाव है कि गैस सिलेंडर के लिए गरीबों को सब्सिडी दी जाए। आवास योजना में उत्तर प्रदेश ने प्रथम स्थान प्राप्त किया है, यह अच्छी बात है, लेकिन अभी भी बहुत से लोगों को आवास की जरूरत है।

सदन से बाहर आने पर शिवपाल ने मीडिया से बातचीत के दौरान यह पूछे जाने पर कि क्या सपा में वापस जाएंगे? उन्होंने पर कहा, अब समय जा चुका है। अगर सपा गठबंधन करना चाहती है तो मैं तैयार हूं।

सपा द्वारा बहिष्कार का ऐलान किए जाने के बावजूद सदन में पहुंचने के सवाल वा शिवपाल ने कहा, अखिलेश हमें किसी भी बैठक में बुलाते ही नहीं हैं। यहां से मुझे गांधी जी के बारे में बुलावा में आया तो मैं शामिल होने चला आया। अब हमारा सपा में जाना संभव नहीं है।

गौरतलब है कि गांधी जयंती के मौके पर चलने वाले सदन के विशेष सत्र की कार्यवाही का प्रदेश का प्रमुख विपक्षी दल समाजवादी पार्टी ने बहिष्कार का ऐलान किया है। ऐसे में समाजवादी पार्टी के विधायक के रूप में शिवपाल सिंह यादव और नितिन अग्रवाल ने कार्यवाही में शामिल होकर पार्टी के निर्देश की अवहेलना की है।

शिवपाल इटावा के जसवंतनगर से समाजवादी पार्टी से विधायक हैं। वह सपा विधायक के रूप में कार्यवाही में शामिल हुए। हालांकि उन्होंने अलग पार्टी बना ली है। सपा ने विधानसभा अध्यक्ष को आवेदन देकर शिवपाल को अयोग्य करार दिए जाने का अनुरोध किया है। हालांकि यह भी चर्चा है कि सपा ने अपना आवेदन वापस ले लिया है।

वहीं, पार्टी लाइन से विपरीत विधानसभा की कार्यवाही में शामिल हुए हरदोई से सपा विधायक नितिन अग्रवाल ने चर्चा में भाग लेते हुए कहा कि विपक्षी नेता तब सदन छोड़कर भाग जाते हैं, जब जनता के हितों की बात होती है।

--आईएएनएस

Related News

Leave a Comment