विशाखापट्टनम टेस्ट : एल्गर को मिला डी कॉक का साथ (लीड-1)

विशाखापट्टनम, 4 अक्टूबर (आईएएनएस)। डीन एल्गर ने यहां एसीए-वीसीए स्टेडियम में भारत के खिलाफ खेले जा रहे पहले टेस्ट मैच के तीसरे दिन शुक्रवार को एक छोर पर टिके रहते हुए दक्षिण अफ्रीका को संभाले रखा है। इसमें कप्तान फाफ डु प्लेसिस और क्विंटन डी कॉक ने उनका अच्छा साथ दिया।

दक्षिण अफ्रीका ने तीसरे दिन चायकाल तक अपनी पहली पारी में पांच विकेट खोकर 292 रन बना लिए हैं। भारत ने अपनी पहली पारी सात विकेट के नुकसान पर 502 रनों पर घोषित कर दी थी। मेहमान टीम अभी भी भारत से 210 रन पीछे है। चायकाल की घोषणा तक एल्गर 133 और डी कॉक 69 रन बनाकर खेल रहे हैं।

सलामी बल्लेबाज एल्गर दूसरे दिन से ही भारतीय गेंदबाजों के सामने चुनौती बने हुए हैं। दूसरे दिन के आखिरी सत्र में बल्लेबाजी करने उतरी दक्षिण अफ्रीकी टीम ने दिन का अंत 39 रनों पर तीन विकेट के नुकसान पर किया था। एल्गर के साथ टेम्बा बावुमा नाबाद लौटे थे।

तीसरे दिन हालांकि ईशांत शर्मा ने बावुमा (20) को आउट कर दक्षिण अफ्रीका को चौथा झटका दिया। यहां एल्गर को डु प्लेसिस का साथ मिला। दोनों ने भोजनकाल तक अपनी टीम को पांचवां झटका नहीं लगने दिया और पहले सत्र का अंत मेहमान टीम ने 153 रनों के साथ किया।

डु प्लेसिस ने दूसरे सत्र में अपना अर्धशतक पूरा किया लेकिन वह इसके बाद ज्यादा देर एल्गर का साथ नहीं दे सके। रविचंद्रन अश्विन की गेंद पर चेतेश्वर पुजारा ने लेग स्लिप पर उनका कैच पकड़ा। डु प्लेसिस ने 103 गेंदों पर आठ चौके और एक छक्के की मदद से 55 रन बनाए। डु प्लेसिस और एल्गर ने मिलकर पांचवें विकेट के लिए 115 रन जोड़े।

डु प्लेसिस के बाद डी कॉक ने एल्गर का साथ दिया। इस बीच एल्गर ने अपना शतक पूरा किया। डी कॉक को शुरू में परेशानी जरूर हुई लेकिन धैर्य के साथ खेलते हुए वह भी एल्गर के साथ रम गए और उन्होंने भी 50 का आंकड़ा पार कर लिया।

दोनों के बीच अभी तक 114 रनों क साझेदारी हो चुकी है। एल्गर ने अभी तक 250 गेंदों का सामना कर 14 चौके और चार छक्के लगाए। वहीं डी कॉक 98 गेंदों पर 11 चौके और एक छक्का लगा चुके हैं।

भारत के लिए अश्विन तीन सफलताएं अर्जित कर चुके हैं। ईशांत और रवींद्र जडेजा को एक-एक विकेट मिला है।

भारत ने मयंक अग्रवाल के 215 और रोहित शर्मा के 176 रनों के दम पर विशाल स्कोर खड़ा किया था।

--आईएएनएस

Related News

Leave a Comment