विशाखापट्टनम टेस्ट : भारत जीत से 2 विकेट दूर

विशाखापट्टनम, 6 अक्टूबर (आईएएनएस)। रवींद्र जडेजा और मोहम्मद शमी की घातक गेंदबाजी के दम पर भारत ने यहां एसीए-वीसीए स्टेडिमय में जारी पहले टेस्ट मैच के पांचवें और अंतिम दिन रविवार को लंच तक 117 रन पर दक्षिण अफ्रीका के आठ विकेट झकट लिए हैं।

भारत ने दक्षिण अफ्रीका के सामने जीतने के लिए 395 रनों का लक्ष्य रखा था। दक्षिण अफ्रीका को अभी मैच जीतने के लिए 278 रन और बनाने हैं जबकि उसके मात्र अब दो विकेट ही शेष बचे हैं। लंच के समय तक सेनुरान मुतुसामी 47 गेंदों पर एक चौके की मदद से 19 और डेन पिएड्ट 56 गेंदों पर पांच चौकों और एक छक्के की मदद से 32 रन बनाकर नाबाद लौटे।

दोनों बल्लेबाजों के बीच नौवें विकेट के लिए अब तक 47 रन की साझेदारी हो चुकी है।

भारत की ओर से जडेजा ने अब तक चार, शमी ने तीन और रविचंद्रन अश्विन ने एक विकेट लिया है।

इससे पहले दक्षिण अफ्रीका ने कल के स्कोर एक विकेट पर 11 रन से आगे खेलना शुरू किया। एडिन मार्कराम तीन और थेयुनिस डे ब्रयून ने पांच रन से आगे खेलना शुरू किया। मेहमान टीम की शुरुआत ठीक नहीं रही और टीम ने पहले सत्र के खेल में 33 ओवरों का सामना किया, जिसमें उसने 106 रन बनाए और अपने सात विकेट गंवाए।

दिन का खेल शुरू होते ही दक्षिण अफ्रीकी टीम जडेजा और शमी की घातक गेंदबाजी के आगे नियमित अंतराल पर विकेट गंवाती चली गई। मेहमान टीम ने 60 रन तक अपने पांच विकेट गंवा दिए थे। इन पांच विकेटों में डे ब्रयून (10), उपकप्तान टेम्बा बावुमा (0), कप्तान फाफ डु प्लेसिस (13), क्विंटन डी कॉक (0) के विकेट शामिल हैं।

ऐसा लग रहा था कि टीम इसके बाद इन झटकों से उबर जाएगी। लेकिन 70 रन के स्कोर पर ही उसने तीन लगातार तीन विकेट खो दिए, जिससे टीम अब हार के कगार पर पहुंच चुकी है। इन तीन विकेटों में मार्कराम (39), वार्नोन फिलेंडर (0) और केशव महाराज (0) के विकेट शामिल हैं।

भारत ने अपनी पहली पारी सात विकेट के नुकसान पर 502 रनों पर घोषित की थी। दक्षिण अफ्रीका ने भी संघर्ष किया और अपनी पहली पारी में 431 रन बनाए। भारत दूसरी पारी में 71 रनों की बढ़त के साथ उतरी थी और उसने दूसरी पारी में चार विकेट पर 323 रन बनाकर पारी घोषित कर दी और दक्षिण अफ्रीका के सामने जीत के लिए 395 रनों का लक्ष्य रखा था।

--आईएएनएस

Related News

Leave a Comment