83 साल की उम्र में इस शख्स ने पूरी की अपनी 60 साल पुरानी ख्वाहिश

नई दिल्ली। यदि मन के कुछ करने की तमन्ना हो तो उम्र भी आपके आड़े नहीं आती. ऐसा ही कुछ कर दिखाया है पंजाब के होशियारपुर जिले के गांव दत्ता निवासी सोहन सिंह गिल ने, जिन्होंने 83 वर्ष की आयु में एमए इंग्लिश की डिग्री हासिल कर सभी को हैरानी में डाल दिया है।

सोहन सिंह गिल का कहना है कि उन्हें अक्सर लगता था कि उनकी पढ़ाई अधूरी है जिसे पूरा करने के लिए उन्होंने MA इंग्लिश में करने का फैसला किया और 61 साल पुराना अरमान पूरा कर लिया।

15 अगस्त 1936 को दत्ता में जन्में सोहन सिंह गिल ने अपनी शिक्षा पंडोरी गंगा सिंह से आरंभ कर अपनी दसवीं की शिक्षा महिलपुर से प्राप्त की और फिर खालसा कॉलेज महिलपुर से BA पूरा किया. वर्ष 1958 को अपने कॉलेज के वाईस प्रिंसिपल के आग्रह पर उन्होंने MA करने का मन बनाया, किन्तु अचानक उनकी शादी हो गई और वो अपनी पत्नी के साथ विदेश चले गए. वहां नौकरी करने के बाद, वे 60 साल बाद अपने देश भारत आ गए, किन्तु अपने वाईस प्रिंसिपल की बात उनके मन में कहीं न कहीं दबी रह गई थी।

वर्ष 2018 में उन्होंने MA की तैयारी शुरू की और लवली यूनिवर्सटी से डिग्री प्राप्त की.  सोहन सिंह का एक बेटा है जो विदेश में अपने परिवार से साथ रहता है. गिल के अनुसार, वे दोनों पति-पत्नी गांव में अकेले हैं और पेंशन से उनका गुजारा हो जाता है. सोहन सिंह गिल के अनुसार, पढ़ने की कोई आयु नहीं होती, उनकी इच्छा थी वो अपनी शिक्षा पूरी करें और उन्होंने इसे पूरे 67% अंक के साथ हासिल भी किया। 

Related News

Leave a Comment