9 हजार रूपये के चालान के खिलाफ 3 साल कानूनी लड़ाई लड़ खर्च कर दिए 27 लाख

तीन साल पहले 71 साल के रिसर्च कीडवेल के पास निर्धारित गति से ज्यादा तेज वाहन चलाने के लिए एक नोटिस आया। इसमें 8858 (100 पाउंड) रुपए का चालान था। उन पर 48 किलोमीटर प्रति घंटे के स्पीड जोन में 56 किमी प्रति घंटे की रफ्तार से गुजरने का आरोप था।

रिचर्ड को भरोसा था कि उन्होंने गति सीमा का उल्लंघन नहीं किया। लिहाजा नोटिस का जवाब नहीं दिया। बल्कि 2016 हुई इस कार्रवाई पर तीन साल तक कोर्ट में कानूनी लड़ाई लड़ी। इन सब में करीब 27 लाख रुपए खर्च हो गए। इसमें 18 लाख रुपए वकीलों पर और शेष राशि कोर्ट फीस और दूसरी चीजों पर खर्च हुई।

ब्रिस्टल के पास येट में रहने वाले रिटार्यड इंजीनियर कीडवेल ने दावा किया कि वह नवंबर 2016 में न्यू रोड वॉरकेस्टर में तय 48 किमी की गति सीमा से अधिक पर नहीं थे। स्पीडिंग पर मिले नोटिस से वे हैरान थे।

कीडवेल ने पुलिस से कहा, वह किसी केस का जवाब नहीं देना चाहते थे। कोर्ट में उनके एक्सपर्ट ने कहा, जिस कैमरे ने उनकी कार की स्पीड को दर्ज किया, वह बगल में चल रही थी। उसकी रिकॉर्डिंग में भी गलती हो सकती है।

Related News

Leave a Comment