रक्षाबंधन पर भाई ने 9वीं की छात्रा को बनाया हवस का शिकार

कानपुर। बिठूर में रिश्तो को कलंकित करते हुए चचेरे भाई ने रक्षाबंधन के दिन नाबालिग बहन से दुष्कर्म किया। इससे आहत छात्रा ने फांसी लगाकर जान दे दी। घटना के बाद से आरोपित फरार है। पीड़िता के पिता ने भतीजे के खिलाफ बिठूर थाने में तहरीर दी है।

बिठूर के एक गांव में किसान की 14 वर्षीय इकलौती बेटी नवीं की छात्रा थी। रक्षाबंधन के चलते उसकी मां और पिता के साथ छोटा भाई कानपुर देहात स्थित उसके ननिहाल गए थे। घर में अकेली किशोरी से चचेरे भाई सूरज ने जबरन दुष्कर्म किया। विरोध करने पर उसे बेरहमी से पीटा और भाग निकला।

घटना से क्षुब्ध होकर छात्रा ने फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली। किशोरी को फंदे पर लटकता देख परिजनों ने उसके माता-पिता को सूचना दी। मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार घटना के बाद से सूरज का बड़ा भाई छोटू और विक्की घर से फरार हैं। जबकि बिठूर पुलिस ने उसकी मां शगुन को हिरासत में लिया है। सर्विलांस की मदद से पुलिस रेप के आरोपित को पकड़ने के लिए दबिश दे रही है। गांव में माहौल बिगड़ता देख वहां पर कई थानों की फोर्स मौजूद है। पोस्टमार्टम हाउस में भी पुलिस फोर्स भेजी गई है।

Related News

Leave a Comment