प्याज के बाद टमाटर लोगों को परेशान कर रहा है, कीमतें आसमान को छू रही हैं

नई दिल्ली: प्याज की कीमतें अब धीरे-धीरे कम हो रही हैं। सरकार की जमाखोरी और निर्यात पर अंकुश लगाने जैसे फैसलों ने इसके थोक मूल्य को 30 रुपये तक पहुंचा दिया है। हालांकि, प्याज के बाद टमाटर की कीमतों में बढ़ोतरी के कारण लोगों ने इसका इस्तेमाल कम करना शुरू कर दिया है। वर्तमान में, इसकी कीमत पूरे देश में 80 रुपये प्रति किलोग्राम को पार कर गई है।


एक सप्ताह पहले टमाटर 40 रुपये प्रति किलो के हिसाब से बिक रहा था। 15 दिन पहले इसकी खुदरा कीमत 20 से 30 रुपये प्रति किलो थी। फिलहाल टमाटर की कीमतों में कम आवक के कारण सबसे ज्यादा उछाल देखा गया है। नवरात्र के कारण प्याज की मांग कम हुई है, जबकि टमाटर की खपत बढ़ी है। दिवाली तक इसकी कीमतों में कोई राहत मिलने की उम्मीद नहीं है।

टमाटर मुख्य रूप से उत्तरी राज्यों के अलावा महाराष्ट्र और कर्नाटक में उगाया जाता है। इन क्षेत्रों में बाढ़ और बारिश ने फसलों को नष्ट कर दिया है। इसके कारण दिल्ली सहित देश के कई शहरों में इसकी कीमतें भी बढ़ रही हैं। थोक बाजार कम आवक के कारण कीमतों में उछाल देख रहे हैं। देश की सबसे बड़ी मंडी आजादपुर सब्जी मंडी में टमाटर का थोक मूल्य 46 रुपये प्रति किलोग्राम तक पहुंच गया है। बारिश के कारण टमाटर सड़ रहे हैं, इसलिए कीमतें बढ़ रही हैं।

Related News

Leave a Comment