देश की अर्थव्यवस्था को 5 ट्रिलियन डॉलर पर ले जाने की बुनियाद डाल चुकी है सरकार : अमित शाह

लखनऊ। भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के अध्यक्ष एवं केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने रविवार को यहां गोमतीनगर स्थित इंदिरा गांधी प्रतिष्ठान में आयोजित ग्राउंड ब्रेकिंग सेरेमनी-2 में दीप प्रज्वलित कर कार्यक्रम का शुभारंभ किया। इसके पहले लखनऊ के अमौसी स्थित चौधरी चरण सिंह इंटरनेशनल एयरपोर्ट पर गृह मंत्री का स्वागत मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के साथ भाजपा के प्रदेश अधयक्ष स्वतंत्र देव सिंह ने किया।
इस अवसर पर शाह ने कहा कि देश में सबसे सफल इंवेस्टर्स समिट की शुरुआत गुजरात ने की थी। लेकिन ये आश्चर्य की बात है कि उत्तर प्रदेश में भी इतने कम समय में योगी आदित्यनाथ ने इसे सफल बनाया है। फरवरी 2018 में जब 4 लाख 68 हजार करोड़ रुपये के निवेश के लगभग 1000 एमओयू हुए थे तब भी मुझे बहुत खुशी हुई थी। आज उत्तर प्रदेश के अंदर विकास की एक नई शुरुआत हुई है, इससे देश के सबसे बड़े प्रदेश में आर्थिक गतिविधियां और रोजगार के अवसर बढ़ेंगे। आज इस कार्यक्रम से 250 परियोजनाओं का शिलान्यास और 65 हजार करोड़ रुपये का इंवेस्टमेंट होने जा रहा है। इतने कम समय पर 25 प्रतिशत से ज्यादा एमओयू को जमीन पर उतारने के लिए मैं राज्य सरकार को बधाई और शुभकामनाएं देता हूं।
शाह ने कहा कि प्रधानमंत्री ने कहा है कि हम देश को 5 ट्रिलियन डॉलर की अर्थव्यवस्था बनाएंगे। कई लोग इस पर टीका टिप्पणी करते रहे। लेकिन मैं आज कहना चाहता हूं कि देश की अर्थव्यवस्था को 5 ट्रिलियन डॉलर पर ले जाने की बुनियाद हमारी सरकार डाल चुकी है। आज देश में आयकर भरने वालों की संख्या में भारी बढ़ोतरी हुई है, क्योंकि जब आय बढ़ती है और क्षमता बढ़ती है तभी तो लोग टैक्स भरते हैं। बताया कि पहले 3 करोड़ 80 लाख लोग इनकम टैक्स भरते थे, लेकिन आज 6 करोड़ 70 लाख लोग इनकम टैक्स भरते हैं।
शाह ने कहा कि दुनिया का सबसे बड़ा टैक्स रिफॉर्म, जीएसटी आज हमारे देश में सुचारु रूप से चल रहा है। जब हम जीएसटी का बिल लाए तो दुनिया भर के लोग कहते थे कि भारत में ये सफल कैसे हो पाएगा। आज मोदी जी के नेतृत्व में पूरे देश में जीएसटी पूरी सफलता के साथ लागू किया जा रहा है।
शाह ने कहा कि सिर्फ 5 साल के अंदर हम विश्व बैंक की Óइज ऑफ डूइंग बिजनेसÓ तालिका में 142वें स्थान से 77वें स्थान पर पहुंच गए हैं। बिजली उत्पादन में हम 99वें स्थान पर थे, लेकिन अब 26वें स्थान पर आ चुके हैं। आज 17 नए मेडिकल कॉलेज उत्तर प्रदेश में बनाने का काम हमने कर दिया है और 15 का काम पाइप लाइन में है।
शाह ने कहा कि पिछली सरकारों में देश को सबसे बड़ा प्रदेश, सबसे ज्यादा आबादी वाला प्रदेश, सबसे ज्यादा संसाधनों वाला प्रदेश, सबसे ज्यादा पानी की उपलब्धता वाला प्रदेश और सबसे ज्यादा क्षमता वाला प्रदेश बुरी तरह से बिखरा पड़ा था। 2017 में जनता ने भाजपा की सरकार बनाने का मौका दिया और योगी के मुख्यमंत्री बनने के बाद उत्तर प्रदेश में ढेर सारे परिवर्तन हुए हैं।
शाह ने कहा कि उत्तर प्रदेश के लगभग 20 जिलों में डेयरी बनाने की प्रक्रिया भी योगी की भाजपा सरकार ने शुरू की। औद्योगिक क्षेत्र में उत्तर प्रदेश में कई सारे काम हुए हैं, लेकिन एक जिला-एक उत्पाद की योजना सबसे बेहतर योजनाओं में से एक है। यहां परंपरागत रूप से कई उद्योग पहले से विद्यमान थे। हमारी सरकार ने एक साल के अंदर 80 जिलों के 1-1 उद्योगों को सभी सुविधाएं दी।
इस दौरान राज्यपाल राम नाईक, मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ, दोनों उपमुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य और डॉ. दिनेश शमा, एचसीएल के चेयरमैन शिव नाडर, अडानी समूह के चेयरमैन गौतम अडानी सहित कई प्रमुख उद्यमी कार्यक्रम स्थल में मौजूद रहे।

Related News

Leave a Comment