इस तरह पाकिस्तान से भारत आया अरुण जेटली का परिवार

नई दिल्ली। देश विभाजन के बाद पाकिस्तान से पलायन करने के बाद अरुण जेटली के पिता महाराजा किशन जेटली अमृतसर में कुछ महीने रुके थे।

पुराने शहर के बाजार फुल्लां वाला में जेटली के पिता की बहन का घर था। इसी घर में जेटली के पिता व उनके पांच भाइयों ने कुछ महीने गुजारे थे।


इस घर में अब जेटली की बुआ के पोते नरेंद्र शर्मा रहते हैं। इसी बाजार में जेटली के मामा मदन त्रिखा का भी घर था। जहां अब उनके मामा की बहू रमा त्रिखा परिवार के साथ रहती हैं।

जेटली का ननिहाल अमृतसर था, इसलिए उनके राजनीतिक और सामाजिक जीवन में अमृतसर की महत्वपूर्ण भूमिका रही। 

Related News

Leave a Comment