इस्लाम में शादी एक कॉन्ट्रैक्ट है, जन्म-जन्म का साथ नहीं: ओवैसी

एआईएमआईएम नेता असदुद्दीन ओवैसी ने तीन तलाक बिल पर लोकसभा में बहस के दौरान कहा कि तीन तलाक कानून महिलाओं पर जुल्म है। आप इस कानून के जरिये शादी को खत्म कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि इस्लाम में शादी एक कॉन्ट्रैक्ट है, जन्म-जन्म का साथ नहीं है।

इंडिया टीवी की रिपोर्ट के अनुसार, ओवैसी ने अपने भाषण में कानून के कई पहलुओं का जिक्र किया और तीन तलाक को लेकर कहा कि आप इन प्रावधानों को लागू करेंगे तो क्या शौहर जेल में रहकर भत्ता देगा। उन्होंने कहा कि सामाजिक बुराईयां कानून बनाने से खत्म नहीं होगी।

Related News

Leave a Comment