अपने कर्मों का फल भुगत रहे चिदंबरम: बाबा रामदेव

कांग्रेस नेता पी चिदंबरम पर निशाना साधते हुए बाबा रामदेव ने कहा कि वो अपने कर्मों का फल भुगत रहे हैं क्योंकि उन्होंने कानून को तोड़ा। बाबा रामदेव ने कहा कि एक दिन मैंने न्यायमूर्ति हेगड़े से पूछा कि उन्हें क्या लगता है कि जीवन में सबसे बड़ा सिद्धांत क्या है जिसका पालन करना चाहिए। उन्होंने कहा कि किसी को कानून नहीं तोड़ना चाहिए। यदि आप नियम तोड़ेंगे तो आपको उसका सामना करना होगा जिसका कि आज चिदंबरम सामना कर रहे हैं।

एक कार्यक्रम में बाबा रामदेव ने बोला कि चिदंबरम सोचते थे कि मैं वित्त मंत्री हूं और पूरा साम्राज्य मेरा है। मैं गृह मंत्री हूं और कानून मेरे हाथ में है। लेकिन आज वह अपने कर्मों का प्र’कोप झे’ल रहे हैं। बस इस वजह से क्योंकि उन्होंने कानून को तोड़ा।

योगगुरु रामदेव ने ये भी आरोप लगाया कि सिर्फ चिदंबरम ही नहीं बल्कि पार्टी अध्यक्ष सोनिया गांधी और उनके बेटे राहुल गांधी भी कानून के शिकंजे में थे। आईएनएक्स मीडिया मामले में तिहाड़ में बंद चिदंबरम उस समय गृह मंत्री थे जब जून 2011 में राजधानी के रामलीला मैदान में भ्रष्टाचार के खिलाफ रामदेव और उनके फॉलोअर्स की एक सभा में आधी रात को हंगामा हुआ था।

INX मीडिया भ्रष्टाचार के आरोप में तिहाड़ जेल में न्यायिक हिरासत में रह रहे पी. चिदंबरम को अब 3 अक्टूबर तक तिहाड़ में ही रहना होगा। पूर्व वित्त मंत्री को 19 सितंबर तक के लिए अदालत ने न्यायिक हिरासत में रखने के लिए कहा था। लेकिन पिछले हफ्ते हुई सुनवाई में उनकी इस हिरासत को दिल्ली की एक विशेष अदालत ने खत्म करने के बजाय और बढ़ा दिया।

74 वर्षीय चिदंबरम सीबीआई और ईडी दोनों द्वारा दर्ज मामलों में जांच का सामना कर रहे हैं। जो कि, 2007 में आईएनएक्स मीडिया को दी गई विदेशी निवेश संवर्धन बोर्ड की मंजूरी में कथित अनियमितताओं से संबंधित है। जिसमें उनपर 2007 में 305 करोड़ रुपये के भ्रष्टाचार का आरोप लगा था।

Related News

Leave a Comment