BHU में छात्राओं ने दिया धरना, लगे आजादी के नारे

वाराणसी। अश्‍लील हरकत करने के आरोपी प्रफेसर की बहाली के चलते काशी हिन्‍दू विश्‍वविद्यालय (बीएचयू) का माहौल एक बार फिर गरमा गया है।

रविवार को दूसरे दिन भी मुख्‍य द्वार पर छात्र-छात्राओं का धरना-प्रदर्शन जारी रहा। वहीं बीएचयू प्रशासन ने छात्राओं के जेबी बोस हॉस्‍टल का गेट बंद करा दिया है ताकि छात्राएं धरने में शामिल न हो सकें। यहां जेएनयू की तर्ज पर 'लेकर रहेंगे आजादी' के नारे भी लगे।

इस बीच छात्राओं को कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी का साथ मिला है। मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार उन्‍होंने फेसबुक पोस्‍ट में लिखा है कि 'बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ' अभियान अब बेटियां खुद चलाएंगी।

बीएचयू के जंतु विज्ञान विभाग की ओर से वर्ष 2018 में पुणे गए शै‍क्षणिक टूर के दौरान प्रफेसर एस.के.चौबे पर छात्राओं के साथ अश्‍लील हरकत करने का आरोप लगा था। इस मामले की जांच में दोषी पाए जाने के बाद भी विश्‍वविद्यालय ने उन्‍हें कुछ दिनों पहले ही बहाल कर दिया।

इसकी जानकारी मिलने पर आक्रोशित छात्राओं ने शनिवार की देर शाम मुख्‍य द्वार पर पहुंच प्रफेसर को बर्खास्‍त करने की मांग करते हुए धरना-प्रदर्शन शुरू किया जो पूरी रात चलता रहा। रातभर दर्जनों छात्र-छात्राएं मुख्‍य द्वार के नीचे ही बैठे रहीं।


Source : upuklive

Related News

Leave a Comment